बच्चों के लिए खिचड़ी की 15 हेल्दी रेसिपी | Baccho Ke Liye Khichdi Recipes

Image: Shutterstock

‘खिचड़ी’ एक ऐसा भारतीय व्यंजन है, जिसे भारत में अमूमन हर बढ़ते बच्चे को खिलाया जाता है। कई तरह की दालों, सब्जियों व चावल आदि से बनने वाली खिचड़ी बच्चों के लिए पौष्टिक होने के साथ ही पचाने में भी आसान होती है। इसे बच्चों को ब्रेकफास्ट, लंच या डिनर में खिलाया जा सकता है। अक्सर बच्चे एक ही तरह का खाना व खिचड़ी खा-खाकर ऊब जाते हैं। ऐसे में मॉमजंक्शन के इस आर्टिकल के जरिए हम बच्चों के लिए खिचड़ी की 15 आसान रेसिपी बता रहे हैं, जिन्हें आप घर में उपलब्ध सामग्रियों से आसानी से बना सकते हैं। ये सारी खिचड़ी खाने में स्वादिष्ट होने के साथ ही पौष्टिकता से भी भरपूर हैं।

लेख में सीधे जानते हैं बच्चों के लिए खिचड़ी बनाने के सबसे आसान तरीके और रेसिपी।

1. मूंग दाल व चावल की सादी खिचड़ी

Image: iStock

चावल और मूंग दाल की इस खिचड़ी को थोड़ा पतला बनाकर 6 महीने से ऊपर के शिशुओं को खिलाया जा सकता है। बच्चे का पाचन तंत्र इसे आसानी से पचा सकता है, क्योंकि यह सादी खिचड़ी है। इसमें भारी सब्जियों का इस्तेमाल नहीं किया गया है।

सामग्री:

  • चावल दो बड़े चम्मच
  • मूंग दाल एक बड़ा चम्मच
  • कटी हुई लहसुन की एक फली
  • आवश्यकतानुसार हींग और हल्दी
  • एक चम्मच शुद्ध देसी घी
  • स्वादानुसार नमक

विधि:

  • चावल और मूंग की दाल को एक कटोरी में मिक्स करके अच्छे से धो लें।
  • धोने के बाद इसे करीब आधे घंटे तक भिगोकर रखें और फिर इसके पानी को फेंक दें।
  • अब एक प्रेशर कुकर में आधा चम्मच घी डालें और घी जब हल्का गर्म हो जाए, तो उसमें थोड़ा-सा हींग डाल दें।
  • इसके बाद भिगोए हुए चावल और दाल के साथ ही आवश्यकतानुसार हल्दी और नमक को प्रेशर कुकर में डाल दें।
  • अगर खिचड़ी छह से 12 माह के शिशु के लिए बना रहे हैं, तो नमक न डालें।
  • अब इसमें करीब 2 छोटी कटोरी पानी डालें। इसके बाद कुकर का ढक्कन बंद कर दें।
  • फिर गैस को मध्यम आंच पर रखकर 2 से 3 सीटी आने तक इसे पकने दें।
  • खिचड़ी के पकते ही गैस बंद कर दें और जब कुकर ठंडा हो जाए, तो करची से खिचड़ी को हल्का मसल लें। अब उसमें जरूरत के हिसाब से घी मिलाएं
  • बस तैयार है बच्चों के लिए सादी खिचड़ी। इसे आप कटोरी में निकालकर बच्चे को खिलाएं।

2. तूर या अरहर दाल की खिचड़ी

Image: iStock

आठ महीने या उससे अधिक उम्र के शिशुओं को चावल और तूर या अरहर दाल की बनी खिचड़ी को खिलाया जा सकता है। इसे बनाने की विधि कुछ इस प्रकार है।

सामग्री:

  • दो बड़े चम्मच चावल
  • तूर या अरहर दाल एक बड़ा चम्मच
  • जीरा के कुछ दाने
  • आवश्यकतानुसार हल्दी, घी और हींग
  • स्वादानुसार नमक

विधि:

  • सबसे पहले तूर दाल और चावल को पानी में अच्छी तरह से धोकर करीब आधे घंटे तक भिगोकर रख लें।
  • आधे घंटे बाद दाल और चावल को छानकर बचे हुए पानी को फेंक दें।
  • अब भिगोए हुए दाल व चावल को एक कुकर में डाल कर उसमें हल्दी और नमक आवश्यकतानुसार डालें।
  • अगर आप आठ से बारह माह तक के बच्चे के लिए खिचड़ी बना रहे हैं, तो नमक बिल्कुल न डालें।
  • फिर एक छोटी कटोरी से डेढ़ कटोरी पानी कुकर में डालें और उसका ढक्कन बंद कर दें।
  • अब करीब 4 से 5 सीटी आने तक गैस में इसे मध्यम आंच पर पकने दें।
  • इसके बाद एक दूसरे बर्तन में आवश्यकतानुसार घी गर्म करके उसमें थोड़ा सा जीरा डालें।
  • जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें हींग डाल लें और फिर उसमें कुकर में पके हुए दाल व चावल के मिश्रण को मिला दें।
  • कुछ सेकंड इसे अच्छी तरह से चलाएं। अगर खिचड़ी पतली नहीं है, तो थोड़ा सा पानी डाल सकते हैं, क्योंकि आठ से बारह माह के शिशुओं के लिए खिचड़ी थोड़ी पतली होनी चाहिए।
  • फिर ठंडा होने पर खिचड़ी को शिशु को खिला दें।

3. मसूर दाल से बनी खिचड़ी

Image: iStock

मसूर दाल की खिचड़ी को 9 महीने से ऊपर तक के शिशुओं को खिलाया जा सकता है। इससे पहले शिशुओं को यह खिचड़ी नहीं खिलानी चाहिए, क्योंकि बच्चों के पाचन तंत्र को इसे पचाने में परेशानी हो सकती है।

सामग्री: 

  • एक छोटी कटोरी मसूर की दाल
  • चावल एक कटोरी
  • बारीक कटा हुआ एक प्याज और टमाटर
  • आवश्यकतानुसार जीरा, हल्दी और हींग
  • स्वादानुसार नमक
  • दो करी पत्ता
  • घी दो बड़े चम्मच

विधि: 

  • मसूर की दाल और चावल को साफ पानी में अच्छी तरह से धो लें और 15 मिनट तक भीगने के लिए रख दें।
  • इसके बाद एक कुकर को गैस में मध्यम आंच में चढ़ाएं और गर्म होने पर दो बड़े चम्मच घी डाल दें।
  • घी गर्म होने पर उसमें थोड़ा सा जीरा डालें। जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें हींग और करी पत्ता डालकर भून लें।
  • इसके बाद बारीक कटा प्याज डालें और हल्का भूरा होने तक उसे भूनते रहें।
  • जब प्याज भूरे हो जाए, तो उसमें बारीक कटा टमाटर डाल दें।
  • मिश्रण में थोड़ी सी हल्दी व स्वादानुसार नमक मिलाकर उसे ग्रेवी बनने तक करची से हिलाते रहें।
  • अगर 9 से 12 महीने के बच्चे के लिए खिचड़ी बना रहे हैं, तो नमक न डालें।
  • जब टमाटर पक जाए, तो उसमें भिगोया हुआ दाल और चावल मिला दें।
  • फिर कुकर में दो कटोरी पानी डालकर उसे दो से तीन सीटी लगने तक पकने दें।
  • खिचड़ी ठंडी होने पर उसे प्लेट में परोस दें। अगर बच्चे को घी पसंद हो, तो ऊपर से जरूरत के हिसाब से घी मिला दें।

4. मसाला खिचड़ी

Image: Shutterstock

मसाला खिचड़ी आप एक साल और उससे अधिक उम्र के बच्चों को खिला सकते हैं। इसमें हल्का मसाला होता है, इसलिए एक साल से कम उम्र के शिशुओं को मसाला खिचड़ी न खलाएं।

सामग्री: 

  • एक छोटी कटोरी चावल
  • मूंग दाल तीन छोटे चम्मच
  • तूर दाल दो छोटे चम्मच
  • बारीक कटा एक प्याज
  • आवश्यकतानुसार जीरा, दालचीनी और हल्दी
  • लहसुन की 3 कलियों का पेस्ट
  • स्वादानुसार नमक
  • चुटकी भर घर का बना गरम मसाल
  • शुद्ध घी 2 बड़े चम्मच

विधि: 

  • एक बड़ी कटोरी में चावल, मूंग दाल व अरहर की दाल लेकर तीनों को अच्छे से धो लें और करीब आधे घंटे तक भिगोकर रखें।
  • फिर गैस में मध्यम आंच में कुकर चढ़ा लें और हल्का गर्म होने पर 2 बड़े चम्मच घी डाल दें।
  • घी के गर्म होने पर उसमें जीरा डालकर चटकने दें। उसके बाद लहसुन का पेस्ट और दालचीनी की एक डंडी डालकर भून लें।
  • फिर उसमें बारीक कटा हुआ प्याज डाल दें। प्याज के सुनहरा होने पर उसमें दाल चावल डाल लें और हल्की सी हल्दी व स्वादानुसार नमक डालकर एक मिनट तक भून लें।
  • इसके बाद मिश्रण में ढाई कटोरी पानी डालकर कुकर का ढक्कन बंद कर दें और 3 से 4 सीटी लगने तक पकाएं।
  • कुकर के ठंडा होने पर उसका ढक्कन खोलकर उससे दालचीनी की डंडी निकाल लें और फिर मिश्रण को अच्छी तरह से मसल कर शिशु को खिलाएं।

5. दही खिचड़ी

Image: Shutterstock

इस खिचड़ी को सात माह से अधिक आयु के शिशुओं को खिलाया जा सकता है। बच्चों का पाचन तंत्र इसे आसानी से पचा पाता है। इसे दिन के भोजन के समय ही शिशु या बच्चे को खिलाएं।

सामग्री: 

  • चावल तीन बड़े चम्मच
  • मूंग दाल तीन बड़े चम्मच
  • दही 4 बड़े चम्मच
  • जरूरत के हिसाब से जीरा, हल्दी और हींग
  • बारीक कटा हुआ हरा धनिया
  • स्वादानुसार नमक
  • घी एक बड़ा चम्मच

विधि: 

  • चावल और मूंग दाल को साफ पानी में अच्छे से धो लें और इसे करीब 20 मिनट तक भीगने दें।
  • दोनों के भीगने के बाद इसका पानी फेंक दें।
  • फिर एक प्रेशर कुकर में थोड़ा घी डालें और जीरा डालकर चटकने दें।
  • इसके बाद घी में थोड़ा हींग डालें और फिर चावल व दाल का मिश्रण, दो कटोरी पानी, स्वादानुसार नमक और थोड़ी सी हल्दी डाल दें। बच्चा अगर 12 माह से छोटा है, तो नमक न डालें।
  • अब कुकर का ढक्कन लगा दें और मध्यम आंच में इसे 4 से 5 सीटी आने तक पकने दें।
  • जब यह पक जाए, तो गैस को बंद कर दें और इसके ठंडे होने का इंतजार करें।
  • कुकर के ठंडा होने पर ढक्कन खोलकर मिश्रण को अच्छी तरह से मसल लें।
  • अब एक बर्तन को गैस में मध्यम आंच पर गर्म करें और उसमें 1 बड़ा चम्मच घी डालें। इस गर्म घी को सीधे खिचड़ी में डाल दें।
  • फिर एक करची से पूरी खिचड़ी को चलाएं। जब घी मिक्स हो जाए, तो ऊपर से थोड़ा सा धनिया डाल दें।
  • इस खिचड़ी को एक बर्तन में परोस लें और ऊपर से दही डाल दें।
  • अगर बच्चा दही देखकर उसे खाने से मना करता है, तो घी डालने के कुछ देर बाद ही कुकर में थोड़ी दही डालकर अच्छे से मिक्स कर दें।
  • फिर प्लेट में इसे परोसते हुए ऊपर से हरा धनिया डालकर गार्निश करके बच्चे को खिलाएं।

6. वेज खिचड़ी

Image: Shutterstock

खूब सारी सब्जियों, दाल, चावल, मसाले, टमाटर व प्याज से मिलकर बनने वाली बच्चों की यह वेज खिचड़ी काफी पौष्टिक है। इसे एक साल से ऊपर की उम्र के बच्चों को खिलाया जा सकता है।

सामग्री: 

  • आधा कटोरी चावल
  • हरी मूंग दाल 2 बड़े चम्मच
  • बारीक कटा हुआ एक प्याज
  • एक छोटा चम्मच लहसुन का पेस्ट
  • बारीक कटा हुए दो टमाटर
  • सब्जियां (आधा कप ब्रोकली, एक आलू, एक गाजर, आधा कप हरी मटर, आधा कप फूलगोभी, 4 से 5 बीन्स और थोड़ा सा कद्दू)
  • आवश्यकतानुसार जीरा और हल्दी
  • स्वादानुसार नमक
  • एक चम्मच बारीक कटा हुआ धनिया
  • घी 2 बड़े चम्मच

विधि: 

  • हरी मूंग दाल व चावल को साफ पानी में अच्छे से धोकर करीब आधे घंटा तक भिगोकर रख लें।
  • इसके बाद भिगोए हुए पानी को फेंक कर दाल चावल को छान लें।
  • फिर मध्यम आंच पर कुकर को चढ़ाकर उसमें 2 बड़े चम्मच घी डालें।
  • घी के गर्म होने पर उसमें जीरा डालें। जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें प्याज डालकर उसे हल्का सुनहरा होने तक भूनें।
  • इसके बाद प्याज में सभी सब्जियां डाल दें और कुछ देर तक करची से सबको मिक्स करते रहें।
  • सब्जियों को कुछ देर भूनने के बाद उसमें बारीक कटा हुआ टमाटर डालें और कुछ देर पकाएं।
  • फिर दाल व चावल को इस मिश्रण में मिलाएं। अब आवश्यकतानुसार नमक व हल्दी डालकर उसमें एक कटोरी पानी डाल दें।
  • इसके बाद लहसुन का पेस्ट डालकर कुकर का ढक्कन बंद कर दें।
  • फिर करीब तीन से चार सीटी आने तक इसे पकाएं। जब खिचड़ी पक जाए, तो गैस बंद कर दें।
  • कुकर के ठंडा होने पर ढक्कन खोलकर मिश्रण को हल्का सा मसल लें। फिर इसे धनिया से गार्निश करें।
  • उसके बाद एक कटोरी में खिचड़ी डालकर बच्चे को खिला दें। आप चाहें तो ऊपर से थोड़ा घी भी डाल सकते हैं।

7. पालक की खिचड़ी

Image: Shutterstock

पालक व चावल से बनी इस खिचड़ी को 10 महीने से अधिक की आयु के शिशुओं को खिलाया जा सकता है। बस ध्यान दें कि दस महीने से एक साल तक के शिशु के लिए इस खिचड़ी को बनाते समय नमक न डालें और हल्का पतला करके खिलाएं।

सामग्री:

  • आधा कटोरी चावल
  • आधा कटोरी अरहर दाल
  • डेढ़ कटोरी बारीक कटा पालक
  • बारीक कटा एक प्याज
  • आधा इंच अदरक बारीक कटा हुआ
  • लहसुन की 2 कलियां से बना पेस्ट
  • जरूरत के अनुसार जीरा, हल्दी और हींग
  • नमक स्वादानुसार
  • घी 2 बड़े चम्मच

विधि: 

  • चावल और अरहर की दाल को अच्छे से धोकर आधे घंटे तक भिगोकर रखें और फिर पानी को छान लें।
  • अब गैस में एक पैन में चढ़ा लें और फिर उसमें एक चम्मच घी डालकर उसे गर्म करके उसमें बारीक कटा पालक डालकर भून लें।
  • पालक को तब तक भूनें जब तक की वह पूरी तरह से सिकुड़ न जाए और फिर गैस बंद कर दें।
  • पालक के ठंडा होने पर उसे मिक्सर में डालकर पेस्ट बना लें।
  • इसके बाद गैस में मध्यम आंच पर कुकर में एक चम्मच घी को गर्म करें और उसमें थोड़ा सा जीरा डालें।
  • जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें बारीक कटा प्याज, अदरक और लहसुन का पेस्ट डाल दें।
  • प्याज जब हल्का भूरा होने लगे, तो उसमें पालक का पेस्ट डालें।
  • फिर इसमें आवश्यकतानुसार हल्दी, नमक और हींग डालकर करची की सहायता से सबको मिक्स करें।
  • इसके बाद पालक की ग्रेवी में दाल व चावल को मिलाएं और फिर डेढ़ कटोरी पानी डालकर कुकर का ढक्कन बंद कर दें।
  • अब मध्यम आंच में कुकर में 4 सीट आने के बाद गैस बंद कर दें। जब कुकर ठंडा हो जाए, तो इसे करची से मसलकर बच्चे को परोस दें।

8. टमाटर की खिचड़ी

Image: Shutterstock

खाने में चटपटी टमाटर की खिचड़ी को एक साल से अधिक उम्र के बच्चों को खिलाया जा सकता है। इसमें टमाटर और मूंग दाल की खूबियां है, जो इसे पौष्टिक और टेस्टी दोनों बनाते हैं।

सामग्री: 

  • आधा कटोरी चावल
  • मूंग दाल 3 बड़े चम्मच
  • लहसुन की 2 कलियों
  • बारीक कटा एक प्याज और एक टमाटर
  • स्वादानुसार नमक
  • आवश्यकतानुसार शुद्ध देसी घी, जीरा और हल्दी

विधि:

  • दाल और चावल को पहले अच्छे से धो लें और फिर एक बर्तन में इसे करीब आधे घंटे तक भिगोए।
  • आधे घंटे के बाद दाल-चावल को छानकर अलग कर लें और बचे हुए पानी को फेंक दें।
  • गैस में मध्यम आंच पर कुकर चढ़ाएं और उसमें करीब 1 बड़ा चम्मच घी डालें।
  • घी के गर्म होने पर उसमें जीरा डालकर चटकने दें और फिर लहसुन की कलियों को भून लें।
  • अब भुने हुए मसाले में बारीक कटे प्याज को डालें। प्याज का सुनहरा रंग आने पर उसमें टमाटर डालें और ग्रेवी बनने दें।
  • इसके बाद ग्रेवी में हल्दी व नमक आवश्यकतानुसार मिलाएं।
  • टमाटर व प्याज की ग्रेवी से जब घी थोड़ा अलग होने लगे, तो उसमें दाल और चावल को मिला दें।
  • मिश्रण में 2 कटोरी पानी डालें और कुकर का ढक्कन बंद करके तीन से चार सीटी आने तक पकाएं। जब यह पक जाए, तो गैस बंद कर दें।
  • कुकर के ठंडा होने पर खिचड़ी को हल्का मसल दें और कटोरी में बच्चे को परोसें।

 9. दलिया की खिचड़ी

Image: iStock

गेहूं के दलिया से बनने वाली इस खिचड़ी को 8 महीने से अधिक आयु के शिशुओं को खिलाया जा सकता है। यह खिचड़ी भी पौष्टिकता से भरपूर होती है।

सामग्री: 

  • दलिया के 4 बड़े चम्मच
  • मूंग की दाल 2 बड़े चम्मच
  • एक आलू और आधा गाजर बारीक कटा हुआ
  • आवश्यकतानुसार जीरा, हींग और हल्दी
  • बारीक कटा एक प्याज
  • एक छोटा अदरक का टुकड़ा
  • लहसुन की 2 कलियां
  • स्वादानुसार नमक
  • घी 2 बड़े चम्मच

विधि: 

  • एक कटोरी में दलिया और मूंग दाल को लेकर साफ पानी में अच्छे से धो लें और फिर करीब 30 मिनट तक भीगने दें।
  • इसके बाद दाल व दलिया को छानकर बचे हुए पानी को फेंक दें।
  • अब गैस पर मध्यम आंच में कुकर चढ़ाकर दो चम्मच घी डालकर गर्म करें।
  • फिर उसमें थोड़ा सा जीरा डालकर चटकने दें और उसके बाद हींग डाल लें।
  • अब इसमें बारीक कटे हुए प्याज और अदरक व लहसुन को कद्दूकस करके डालें।
  • प्याज के हल्का सुनहरा होने पर उसमें बारीक कटा आलू व गाजर डाल दें। फिर इसमें हल्दी और नमक आवश्यकतानुसार मिलाएं।
  • कुछ देर सब्जी को भूनने के बाद उसमें दलिया व मूंग दाल को डालें।
  • फिर मिश्रण में ढाई कटोरी पानी डालें और ढक्कन बंद करके कुकर में चार से पांच सीटी आने दें।
  • उसके बाद गैस बंद करके कुकर के ठंडा होने पर मिश्रण को चम्मच की सहायता से हल्का मसल लें और फिर बच्चे को परोसें।

 10. साबूदाना की खिचड़ी

Image: Shutterstock

साबूदाना से बनी खिचड़ी 8 महीने से अधिक आयु के शिशुओं को खिलाने के लिए उपयुक्त होती है। आठ महीने से एक साल तक के शिशु के लिए यह खिचड़ी बनाते समय नमक न डालें। एक साल से ऊपर के बच्चों की खिचड़ी में नमक डाल सकते हैं।

सामग्री: 

  • आधा कटोरी साबूदाना
  • उड़द दाल दो चम्मच
  • चना दाल दो चम्मच
  • भुनी हुई बिना छिलके की मूंगफली के 5-6 दाने
  • 5 से 6 काजू
  • बारीक कटा एक आलू
  • डेढ़ चम्मच नींबू का रस
  • आवश्यकतानुसार घी, जीरा, हल्दी, सरसों के दाने और हींग
  • बारीक कटा हरा धनिया
  • स्वादानुसार नमक

विधि: 

  • साबूदाना को साफ पानी में अच्छे से धोने के बाद पूरी रात या फिर सात घंटे तक भिगोए रखें।
  • अब गैस पर कढ़ाई रखकर उसमें एक बड़ा चम्मच घी गर्म करें।
  • फिर उसमें थोड़ा सा जीरा और सरसों के दाने डालकर चटकने दें।
  • उसके बाद हींग डालें और फिर बारीक कटा हुआ आलू, उड़द और चना दाल डाल दें।
  • अब इसमें आधा कटोरी पानी डालकर आलू को नरम होने तक पकने दें।
  • इसके बाद भुनी हुई बिना छिलके की मूंगफली और काजू के दानों को मिक्सर में ग्राइंड कर लें।
  • इस पाउडर को अब आलू के मिश्रण में डालकर मिक्स कर दें और फिर भिगोए हुआ साबूदाना भी डालें।
  • उसके बाद पूरे मिश्रण को पांच मिनट तक धीमी आंच में तब तक पकने दें जब तक साबूदाना पारदर्शी यानी ट्रांसपेरेंट सा दिखने लगे।
  • इसके बाद गैस को बंद कर लें और ठंडा होने पर नींबू का रस डालकर मिक्स कर दें और बच्चे को साबूदाना खिचड़ी खिलाएं।

11. ओट्स की खिचड़ी

Image: Shutterstock

ओट्स में फाइबर की मात्रा अधिक होती है और ओट्स की खिचड़ी को 8 महीने से अधिक उम्र के बच्चों को आसानी से खिलाया जा सकता है।

सामग्री: 

  • छोटी कटोरी में आधा कटोरी ओट्स
  • मूंग की दाल 3 बड़े चम्मच
  • बारीक कटा 1 प्याज और टमाटर
  • आधा बारीक कटा गाजर
  • अदरक का छोटा सा टुकड़ा
  • आवश्यकतानुसार हींग, जीरा और हल्दी
  • स्वादानुसार नमक
  • घी 2 बड़े चम्मच

विधि: 

  • सबसे पहले मूंग दाल को साफ पानी में धोकर करीब 20 मिनट तक भिगोए रखें और फिर छानकर बचे हुए पानी को फेंक दें।
  • फिर गैस पर एक कुकर में 2 बड़े चम्मच घी डालकर उसे गर्म करें और उसमें थोड़ा सा जीरा व हींग डालकर भून लें।
  • इसके बाद बारीक कटा प्याज व अदरक डालें और प्याज को सुनहरा होने तक पकाएं।
  • प्याज में फिर टमाटर डालें और ग्रेवी के मुलायम होने पर उसमें बारीक कटा गाजर, हल्दी और स्वादानुसार नमक डालें।
  • अगर एक साल से कम उम्र के बच्चे के लिए साबूदाना खिचड़ी बना रहे हैं, तो नमक न डालें।
  • अब इस मिश्रण में मूंग दाल डालें और कुछ देर बाद आधा कटोरी ओट्स डालकर करची की सहायता से चलाते रहें।
  • कुछ देर बाद मिश्रण में 2 कटोरी पानी डालकर कुकर का ढक्कन बंद कर दें और 3 से 4 सीटी आने दें।
  • कुकर के ठंडा होने पर ओट्स खिचड़ी को मसल दें और कटोरी में डालकर बच्चे को परोसें।

12. सूजी की खिचड़ी

Image: Shutterstock

सूजी से बनी खिचड़ी को 6 महीने से अधिक आयु तक के बच्चों को खिलाया जा सकता है। यह पौष्टिक खिचड़ी का एक अच्छा विकल्प है।

सामग्री: 

  • आधा कटोरी सूजी
  • बारीक कटी सब्जियां (2 से 3 बीन्स और आधा गाजर)
  • आवश्यकतानुसार जीरा, हल्दी और शुद्ध घी 
  • अदरक का छोटा सा टुकड़ा
  • बारीक कटा एक प्याज और टमाटर

विधि: 

  • सबसे पहले एक पैन में सूजी को हल्का भून लें और एक खाली बर्तन में निकालकर अलग रख लें।
  • इसके बाद बारीक कटे हुए टमाटर, प्याज, बीन्स और गाजर को एक कुकर में हल्की सीटी आने तक पकाएं ताकि वह नरम हो जाएं।
  • अब गैस पर कढ़ाई में एक बड़ा चम्मच घी गर्म करें और चुटकी भर हल्दी और जीरा डाल दें।
  • जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें हल्की पकाई हुई सब्जियों को मिक्स करें।
  • फिर इस मिश्रण में 2 कटोरी पानी और स्वादानुसार नमक डालकर उबलने दें।
  • पानी में उबाल आने के बाद उसमें भुनी हुई सूजी को मिलाएं।
  • अब धीमी आंच में मिश्रण को तब तक पकाएं जब तक सूजी पानी न सोख ले।
  • करीब 5 मिनट तक मिश्रण को पकाने के बाद गैस बंद करके इसे ठंडा होने दें।
  • अब सूजी की खिचड़ी को बाउल में डालकर बच्चे को खिलाएं।

13. उड़द दाल की खिचड़ी

Image: Shutterstock

उड़द के दाल से बनी खिचड़ी को 12 महीने से अधिक उम्र के बच्चों को खिला सकते हैं। स्वाद में यह खिचड़ी अच्छी होने के साथ ही यह पौष्टिकता से भी भरपूर है।

सामग्री: 

  • आधा कटोरी चावल
  • उड़द दाल 5 बड़े चम्मच
  • कद्दूकस किया हुआ नारियल 3 बड़े चम्मच
  • लहसुन की 5 कलियां
  • लौंग के 3 दाने
  • तिल का तेल 1 चम्मच
  • आवश्यकतानुसार हल्दी और नमक

विधि: 

  • उड़द दाल और चावल को साफ पानी में धोकर 20 मिनट तक भिगोए रखें और फिर छान लें।
  • गैस पर एक कुकर में तिल का तेल गर्म करें और उसमें बारीक कटी लहसुन व लौंग के दानों को भून लें।
  • इसके बाद इसमें भिगोए हुए दाल और चावल के साथ ही हल्दी डालकर 5 मिनट तक चलाएं।
  • अब इस मिश्रण में कद्दूकस किए हुए नारियल डालकर मिलाएं और फिर एक कटोरी पानी डाल दें।
  • इसके बाद इसमें स्वादानुसार नमक डालकर कुकर का ढक्कन बंद करके 3 से 4 सीटी लगने दें।
  • फिर गैस बंद करके खिचड़ी कुकर ठंडा होने दें।
  • अब कुकर खोलकर खिचड़ी को अच्छे से मसल लें और इसमें डाल हुई लौंग को निकाल लें, क्योंकि यह छोटे बच्चों के गले में अटक सकती है।
  • अब इसे कटोरी में डालकर बच्चे को खिलाएं।

14. गाजर की खिचड़ी

Image: iStock

छह माह व उससे अधिक आयु तक के बच्चों को गाजर की खिचड़ी खिलाई जा सकती है। बस इसे 6 माह से 18 महीने तक के बच्चे के लिए थोड़ा पतला और बिना नमक वाला बनाएं।

सामग्री: 

  • आधा कटोरी कद्दूकस किया हुआ गाजर
  • चावल दो चम्मच
  • मूंग दाल दो चम्मच
  • लहसुन की 2 कलियां
  • आवश्यकतानुसार जीरा और हल्दी
  • स्वादानुसार नमक
  • घी 2 बड़े चम्मच

विधि: 

  • चावल और मूंग दाल को पानी में अच्छे से धोकर आधे घंटे तक भिगोए रखें। फिर पानी को छानकर फेंक दें।
  • अब गैस में मध्यम आंच पर कुकर रखें और उसमें घी को गर्म करें।
  • तेल गर्म होते ही उसमें थोड़ा सा जीरा डाल दें। जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें कद्दूकस किया हुआ गाजर और लहसुन की कलियों को बारीक काटकर डालें।
  • फिर गाजर को कुछ देर पकाने के बाद उसमें दाल-चावल और चुटकी भर हल्दी डालकर अच्छे से मिलाएं।
  • इसके बाद मिश्रण में डेढ़ कटोरी पानी और स्वादानुसार नमक डालकर 4 सीटी आने तक पकाएं।
  • अगर 6 से 12 माह के बच्चे के लिए खिचड़ी बना रहे हैं, तो नमक न डालें।
  • अब कुकर के ठंडा होने पर ढक्कन खोल कर मिश्रण को अच्छे से मसले और बच्चे को खिला दें।

15. ब्रोकली की खिचड़ी

Image: Shutterstock

ब्रोकली से बनी खिचड़ी को 12 महीने से अधिक आयु के बच्चे को खिला सकते हैं। ब्रोकली के स्वाद और पोषक मूल्य की वजह से यह पौष्टिक और स्वादिष्ट दोनों होती है।

सामग्री: 

  • आधी ब्रोकली
  • आधा कटोरी चावल
  • मूंग दाल 4 बड़े चम्मच
  • बारीक कटा एक प्याज, टमाटर और आलू
  • लहसुन की 3 कलियां
  • आवश्यकतानुसार हरा धनिया, जीरा, हींग और हल्दी
  • स्वादानुसार नमक
  • दो चम्मच शुद्ध घी

विधि: 

  • सबसे पहले मूंग दाल व चावल को धोकर 20 मिनट के लिए भिगोकर छान लें।
  • उसके बाद ब्रोकली को साफ पानी में धोकर काट लें।
  • फिर गैस पर एक पैन में पानी गर्म करके चुटकी भर नमक और हल्दी डालकर ब्रोकली को 6 से 7 मिनट तक उबालें।
  • इसके बाद गैस बंद करके कुछ देर बाद पानी को छानकर ब्रोकली को ठंडा होने के लिए रख दें।
  • ब्रोकली के ठंडा होने के बाद उसे मिक्सर में ग्राइंड करके पेस्ट बना लें।
  • अब गैस पर कुकर रखें और फिर उसमें दाल, चावल, बारीक कटे आलू, हल्दी और 3 कटोरी पानी डालकर मध्यम आंच पर 4 से 5 सीटी आने दें।
  • इसके बाद एक कढ़ाई में घी गर्म करें और उसमें पहले जीरा डालें।
  • जब जीरा चटकने लगे, तो उसमें हींग डालें और फिर प्याज और लहसुन डालकर सुनहरा होने तक भून लें।
  • फिर प्याज में बारीक कटे टमाटर को मिलाएं और मिश्रण के मुलायम होने तक उसे पकाएं।
  • इसके बाद इसमें ग्राइंड की हुई ब्रोकली को मिलाकर कुछ देर तक पकाएं।
  • ब्रोकली के मिश्रण को कुकर में पकाए गए दाल और चावल के साथ अच्छी तरह से मिला लें।
  • बस तैयार है आपकी ब्रोकली की खिचड़ी। थोड़ा ठंडा होने के बाद इसे बच्चे को परोस सकते हैं।

ये थीं बच्चों की खिचड़ी की कुछ अलग और आसान रेसिपी, जिनमें स्वाद और सेहत दोनों ही समाए हुए हैं। बस ध्यान दें कि छोटे बच्चों के लिए खाना बनाने से पहले हमेशा अपने हाथ और सब्जियां अच्छे से धो लें। साथ ही बच्चों को केवल वही खाना खिलाएं, जिसे वो आसानी से पचा सकें। बच्चों को खिलाए जाने वाला खाने को अधिक मसालेदार, तेज नमक व मिर्च वाला न बनाएं। बच्चों के लिए ऐसे ही अन्य स्वादिष्ट और पौष्टिक व्यंजन जानने के लिए आप मॉमजंक्शन के दूसरे आर्टिकल पढ़ सकते हैं।