छोटे बच्चों के लिए 30 बेहद खूबसूरत और मनोरंजक लोरियां

छोटे बच्चों के लिए 30 बेहद खूबसूरत और मनोरंजक लोरियां

Image: Shutterstock

मुझे आज भी याद है कि किस तरह मेरी मां बचपन में मुझे लोरी गाकर सुनाया करती थी। मां की लोरी की आवाज़ कानों में पड़ते ही मैं कब नींद की आगोश में चली जाती थी, पता ही नहीं चलता था। मां की लोरी सुनते हुए सपनों के संसार में खो जाने के सुखद अहसास को मैं आज भी बहुत याद करती हूं।

‘लोरी’ दरअसल अंग्रेज़ी भाषा के शब्द ‘lullaby’ का हिंदी अनुवाद है। इसका अर्थ है – बच्चा शांत हो जाए और सो जाए। आज से करीब चार हज़ार साल पहले बेबीलोनिया में पहली बार किसी मां ने अपने बच्चे को लोरी सुनाई थी। एक प्यारी-सी लय में कुछ मीठे-मीठे शब्दों को पिरोकर लोरी बनाई और गाई जाती है। हमारे समाज में कुछ लोरियां काफ़ी लंबे समय से गाई जाती रही हैं। ऐसी लोरियों को पारंपरिक लोरियां कहा जा सकता है। कुछ लोरियां खासतौर पर हिंदी फ़िल्मों के लिए लिखी गई थीं, जो बाद में बेहद लोकप्रिय हो गईं। ऐसी लोरियों को फ़िल्मी लोरियां कहा जा सकता है।

आज भले ही ज़माना बदल गया है, लेकिन लोरियों का महत्व बिल्कुल भी कम नहीं हुआ है। आज भी माताएं अपने नन्हें राजकुमार या राजकुमारी को सुलाने के लिए लोरियों का ही इस्तेमाल करती हैं। इसलिए, मॉमजंक्शन के इस लेख में हम 30 ऐसी लोकप्रिय लोरियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें गाकर आप भी अपने बच्चे को गहरी नींद का तोहफ़ा दे सकती हैं।

बच्चों को लोरी सुनाने के क्या फ़ायदे हैं?

1. मां और बच्चे के रिश्ते की मिठास बढ़ाती है लोरी

ऐसा माना जाता है कि मां की लोरियां सुनने से बच्चे और मां का रिश्ता और गहरा हो जाता है। दरअसल, कोई भी बच्चा सबसे पहले अपनी मां की आवाज़ को ही पहचानना शुरू करता है। विशेषज्ञों की मानें तो लोरी इस पहचान को मज़बूती देने में काफ़ी मदद कर सकती है। चूंकि लोरी गाने पर बच्चा अपनी मां की आवाज़ को ज़्यादा देर तक सुन पाता है, इसलिए मां के साथ उसका जुड़ाव भी गहरा हो जाता है।

2. बच्चे के दिमागी विकास में मदद करती है लोरी

लोरी सुनने से बच्चे के मस्तिष्क का भी विकास होता है। इससे बच्चे के मस्तिष्क के कई हिस्से एक साथ उत्तेजित होते हैं, जिससे बच्चे का दिमागी विकास होता है। लोरियां सुनकर बच्चा अलग-अलग ध्वनियों के बीच फ़र्क करना भी सीख जाता है।

3. लोरी से बच्चे को अच्छी नींद आती है

दरअसल, लोरी गाई ही इसलिए जाती है ताकि बच्चे को अच्छी और गहरी नींद आ सके। अगर बच्चा ठीक से ना सोए, तो उसे चिड़चिड़ाहट या थकान होने लगती है। ऐसे में लोरी बच्चों के ऊपर किसी जादू की तरह असर करती है और उन्हें गहरी नींद के आगोश में भेज देती है।

4. बच्चे की भाषा पर पकड़ को बढ़ाती है लोरी

लोरियां सुनने से बच्चे की भाषा सीखने की क्षमता बढ़ जाती है। लोरी में इस्तेमाल किए गए शब्द बच्चे को धीरे-धीरे याद होने लगते हैं और वो बाद में उन शब्दों का सही इस्तेमाल भी करने लगता है। दरअसल, लोरी किसी छोटी कविता जैसी ही होती है, जिसके इस्तेमाल से बच्चे को भाषा सीखने में मदद मिलती है।

5. बच्चे को निडर बनाती है लोरी

मां की लोरी सुनने से बच्चे के मन का डर दूर हो सकता है। लोरी सुनने पर बच्चे को मां के साथ होने का एहसास होता है। यह एहसास उसे निडर बनाता है और वह धीरे-धीरे खतरों का सामना करना सीखने लगता है। इतना ही नहीं, लोरी सुनने से बच्चे का बौद्धिक और भावनात्मक विकास भी होता है। इस तरह लोरी बच्चे को खुद पर भरोसा करना भी सिखाती है।

वापस ऊपर जाएँ

हिंदी की 30 पारंपरिक और फ़िल्मी लोरियां | Bachon Ki Lori Lyrics

नीचे हम आपको हिंदी की 30 ऐसी लोरियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिन्हें गाकर आप अपने बच्चे का मन बहला सकती हैं या फिर उसे गहरी नींद में सुला सकती हैं। इनमें से कुछ लोरियां पारंपरिक हैं, तो कुछ फ़िल्मों से ली गई हैं:

वापस ऊपर जाएँ

1. चंदा मामा दूर के

चंदा मामा दूर के, पुए पकाएं बूर के
आप खाएं थाली में, मुन्ने को दें प्याली में
प्याली गई टूट, मुन्ना गया रूठ
लाएंगे नई प्यालियां, बजा बजा के तालियां
मुन्ने को मनाएंगे, हम दूध मलाई खाएंगे
चंदा मामा…

उड़न खटोले बैठ के मुन्ना चंदा के घर जाएगा
तारों के संग आंख मिचौली खेल के दिल बहलाएगा
खेल कूद से जब मेरे मुन्ने का दिल भर जाएगा
ठुमक ठुमक मेरा मुन्ना वापस घर को आएगा
चंदा मामा …

वापस ऊपर जाएँ

2. निंदिया आ जा री

निंदिया आ जा री, हे मैया लोरी सुनावे
निंदिया आ जा री, मैया लोरी सुनावे
चंदन का है पालना
रेशम की है डोरी
दूध-बताशे से भरी
मुनिया की कटोरी, मुनिया की कटोरी
निंदिया आ जा री, मैया लोरी सुनावे
निंदिया आ जा री, मैया लोरी सुनावे

वापस ऊपर जाएँ

3. नींद भरे, पंख लिए, झूला झुला जाना

नींद भरे, पंख लिए, झूला झुला जाना
नन्हीं कली सोने चली हवा धीरे आना
नींद भरे, पंख लिए, झूला झुला जाना
नन्हीं कली सोने चली हवा धीरे आना

चांद किरण-सी गुड़िया नाजों की है पली
चांद किरण-सी गुड़िया नाजों की है पली
आज अगर चंदनिया आना मेरी गली
गुन गुन गुन गीत कोई हौले-हौले गाना
नींद भरे, पंख लिए, झूला झुला जाना

रेशम की डोर अगर पैरों को उलझाए
रेशम की डोर अगर पैरों को उलझाए
घुंघरू का दाना कोई शोर मचा जाए
रानी मेरी जागे तो फिर निंदिया तू बहलाना
नींद भरे, पंख लिए, झूला झुला जाना
नन्हीं कली सोने चली हवा धीरे आना

वापस ऊपर जाएँ

4. गुड़िया रानी बिटिया रानी

गुड़िया रानी बिटिया रानी परियों की नगरी से एक दिन
राजकुंवर जी आएंगे महलों में ले जाएंगे
गुड़िया रानी बिटिया रानी…
आगे-पीछे घोड़े-हाथी बीच में होंगे सौ बाराती
इतनी आज अकेली हो तुम तेरे कितने होंगे साथी
कितनी खुश हूं मैं मेरे आंख में पानी
गुड़िया रानी बिटिया रानी…

तू मेरी छोटी-सी गुड़िया बन जाएगी जादू की पुड़िया
तुझपे आ जाएगी जवानी मैं तो हो जाऊंगी बुढ़िया
भूल ना जाना प्रीत पुरानी, गुड़िया रानी बिटिया रानी…

वापस ऊपर जाएँ

5. लल्ला लल्ला लोरी

लल्ला लल्ला लोरी दूध की कटोरी
दूध में बताशा मुन्नी करे तमाशा
छोटी-छोटी प्यारी सुंदर परियों जैसी है
किसी की नज़र ना लगे मेरी मुन्नी ऐसी है
शहद से भी मीठी दूध से भी गोरी
चुपके-चुपके चोरी-चोरी
लल्ला लल्ला लोरी
कारी रैना के माथे पे चमके चांद-सी बिंदिया
मुन्नी की छोटे-छोटे नैनन में खेले निंदिया
सपनों का पालना आशाओं की डोरी
चुपके-चुपके चोरी-चोरी
लल्ला लल्ला लोरी

वापस ऊपर जाएँ

6. निंदिया आई अब तू सो जा

दिल के टुकड़े मेरे भानू
निंदिया आई अब तू सो जा
आंखें भारी और उबासी ने
घेरा है अब तू सो जा…1

दूध पिया है तूने जी भर
आंख मीचकर अब तू सो जा
दिनभर खेला और थका है
सुस्ताना है अब तू सो जा…
सुस्ताना है अब तू सो जा…
परियां आकर ले जाएंगी
परीलोक में अब तू सो जा
वहां मिलेंगे तुझको तारे
और चंद्रमा अब तू सो जा…3

बातें करना तू चंदा से
और तारों से अब तू सो जा
मां की गोदी ऐसी प्यारी
मखमल तकिया अब तू सो जा …4
टीवी की लोरी कहती है
देर हो गई अब तू सो जा
तुझे थपकते थकी आज मैं
झपकी आई अब तू सो जा …5

वापस ऊपर जाएँ

7. नींद भरी रे गुलाल भरी…

नींद भरी रे गुलाल भरी,
मेरे लाडले की अंखियां नींद भरी
मेरे ललना की अंखियां नींद भरी…
मेरे ललना की अंखियां नींद भरी…

जगमग तारों की चुनरी ओढ़ी
निंदिया रानी आएगी दौड़ी…
निंदिया रानी आएगी दौड़ी…
सपनों में अाएगी सोनपरी
मेरे लाड़ले की अंखियां नींद भरी
मेरे ललना की अंखियां नींद भरी

नींद भरी रे गुलाल भरी,
मेरे लाडले की अंखियां नींद भरी

राजा बेटा घोड़े पे करके सवारी
इक दिन लाएगा राजकुमारी…
इक दिन लाएगा राजकुमारी…
राजकुमारी होगी सुंदर परी…
मेरे लाडले की अंखियां नींद भरी…

नींद भरी रे गुलाल भरी,
मेरे लाडले की अंखियां नींद भरी…

वापस ऊपर जाएँ

8. आ जा री निंदिया रानी आ जा

आ जा निंदिया रानी आ जा दूर सितारों से…2
नन्हें-नन्हें सपने ले आ दूर नज़ारों से
आ बसजा मेरी गुड़िया की नन्हीं-सी आंखों में
आ जा निंदिया रानी आ जा दूर सितारों से…
परियों की नगरी से आने वाली है वो सपने सलोने लिए
नन्हीं-सी पलकों में छुप जाएगी वो ढेरों खिलौने लिए…
हर थपकियां देके वो गुनगुनाएगी
सो जा..सो जा…सो जा….
आजा निंदिया रानी आजा दूर सितारों से…2

वापस ऊपर जाएँ

9. चंदनिया छुप जाना रे

लोरी लोरी लोरी…
चंदनिया छुप जाना रे
छन भर को लुक जाना रे
निंदिया आंखों में आए
बिटिया मेरी सो जाए
हम्म…निंदिया आंखों में आए
बिटिया मेरी सो जाए
ले के गोद में सुलाऊं
गाऊं रात भर सुनाऊं
मैं लोरी लोरी…
हो मैं लोरी लोरी लोरी…

लोरी लोरी लोरी…

कर्धनियां छुम छुम बजे
पलकन में सपना सजे
धीमे-धीमे हौले-हौले
पवन बसंती डोले
हम्म…
धीमे-धीमे हौले-हौले
पवन बसंती डोले
ले के गोद में सुलाऊं
गाऊं रात भर सुनाऊं
मैं लोरी लोरी…
ओ हो मैं लोरी लोरी…

मेरी मुनिया रानी बने
महलों का राजा मिले
देखे खुशियों के मेले
दर्द कभी ना झेले
हो देखे खुशियों के मेले
दर्द कभी ना झेले
ले के गोद में सुलाऊं
गाऊं रात भर सुनाऊं
मैं लोरी लोरी…

वापस ऊपर जाएँ

10. धीरे से आ जा

धीरे से आ जा री अंखियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
धीरे से आ जा री अंखियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
चुपके नैनन की बगियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
लेकर सुहाने सपनों की कलियां
सपनों की कलियां
लेकर सुहाने सपनों की कलियां
आ के बसा दे पलकों की गलियां
पलकों की छोटी-सी गलियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
धीरे से आ जा री अखियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा

चुपके से नैनन की बगियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
तारों से छुप कर तारों से चोरी, तारों से चोरी
तारों से छुप कर तारों से चोरी
देती है रजनी चंदा को लोरी
हंसता है चंदा भी निंदियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
धीरे से आ जा री अंखियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा
धीरे से आ जा री अंखियन में
निंदिया आ जा री आ जा धीरे से आजा
चुपके नैनन की बगियन में
निंदिया आ जा री आ जा, धीरे से आ जा

वापस ऊपर जाएँ

11. सुन-सुन नन्हें लोरी की धुन

सुन-सुन नन्हें लोरी की धुन
हो जा मीठे सपनों में गुम…2
तू मेरा सूरज है, तू मेरा चंदा है
तू मेरी आंखों का तारा है सुन…
सुन-सुन नन्हें लोरी की धुन
हो जा मीठे सपनों में गुम

मेरे लाड़ले तुझको ओढ़ाऊं आंचल
आ थपकियों से सुलाऊं तुझे…
मैं तारों की नगरी से निंदिया बुलाऊं
अंखियों में तेरी छुपाऊ उसे…
निंदिया क्या तेरे लिए तारे लाऊं मैं
मां का तू नन्हा दुलारा है सुन
सुन-सुन नन्हें लोरी की धुन
हो जा मीठे सपनों में गुम

सुनों ऐ हवाओं न तुम शोर करना
टूटे न नन्हें की निंदिया कहीं..
बड़े भाग से है मिली ऐसी रातें
मैं गाती रहूंगी लोरी यूं ही
सोते हुए निंदिया
तुझको हंसाती है
ऐसे ही मीठे सपनों को चुन
सुन-सुन नन्हें लोरी की धुन
हो जा मीठे सपनों में गुम…2

वापस ऊपर जाएँ

12. छोटी सी प्यारी सी

छोटी-सी, प्यारी-सी, नन्ही-सी आई कोई परी
भोली-सी, न्यारी-सी, अच्छी सी आई कोई परी
पालने में ऐसे ही झूलती रहे
खुशियों की बहारों में झूमती रहे
गाते-मुस्कुराते संगीत की तरह
ये तो लगे रामा की गीत की तरह…2
रा रा रू…रा रा रा…रा रा रू…

वापस ऊपर जाएँ

13. आजा निंदिया आ जा

आ जा निंदिया आ जा, नैनन बीच समा जा
आ जा निंदिया आ जा, नैनन बीच समा जा
आजा आजा आजा
अमृत रस बरसा जा

पवन झुलाए पलना, ममता लोरी गाए हो
पवन झुलाए पलना, ममता लोरी गाए हो…

शीतल-शीतल किरणें, हल्के-हल्के साए हों
तू भी खुशबू बन के, पलकन सेज सजा जा
आ जा, आ जा, आ जा, अमृत रस बरसा जा
आ जा निंदिया आ जा, नैनन बीच समा जा
बदली में सोए है चंदा
नदिया में झिलमिल पानी हो…2

इन अंखियों में सोए है तू ही निंदिया रानी हो
तुझ पर वारी जाऊं
ललना को मेरे सुला जा, आ जा आ जा आ जा
अमृत रस बरसा जा
आजा निंदिया आ जा नैनन बीच समा जा
हर पल देखूं, फिर भी चैन न पाऊं
हर पल देखूं, फिर भी चैन न पाऊं
मैं खुद ही निंदिया बनकर नैनन में बस जाऊं

मेरे नयन की ज्योति मेरा नन्हा राजा
मेरे नयन की ज्योति मेरा नन्हा राजा
आ जा आ जा आ जा अमृत रस बरसा जा…

वापस ऊपर जाएँ

14. आ लेके चलूं तुझको…

आ लेके चलूं तुझको एक ऐसे देश में
आ लेके चलूं तुझको एक ऐसे देश में
मिलती हैं जहां खुशियां परियों के भेष में
मिलती हैं जहां खुशियां परियों के भेष में
परियों के भेष में
आ लेके चलूं तुझको…

हो चांद चाहे आधा, हो फिर भी रोशनी
हो चांद चाहे आधा, हो फिर भी रोशनी
उम्मीद जो ना छूटे, हर बात है बनी
रातों के सुर से निकले सुबह की रागिनी
लोरी तुझे सुनाऊं
लोरी तुझे सुनाऊं
बचपन की एक मैं
लोरी तुझे सुनाऊं
बचपन की एक मैं
मिलती है जहां खुशियां परियों के भेष में
परियों के भेष में
आ लेके चलूं तुझको…

मैं आसमां को खिड़कियों से घर में लाई हूं
मैं आसमां को खिड़कियों से घर में लाई हूं
सारे के सारे तारे यहां चुन के लाई हूं
सपनों में रंग मन के यूं भरते आई हूं
हर दर्द भूल जाऊं
हर दर्द भूल जाऊं
यूं ही खेल-खेल में
हर दर्द भूल जाऊं
यूंही खेल-खेल में
मिलती है जहां खुशियां परियों के भेष में
परियों के भेष में
आ लेके चलूं तुझको…

वापस ऊपर जाएँ

15. नींद परी लोरी गाए

नींद परी लोरी गाए
मां झुलाए पालना
सो जा मेरे लालना – 2

मीठे-मीठे सपनों में
खो जा मेरे लालना
नींद परी लोरी गाए…

तूने मेरे मदभरे सपनों को रंग डाला
तेरी दोनों अंखियोंमें दुनिया का उजियाला – 2
उजियाला
तुम जो हंसे झिलमिलाए दीपमाला
नींद परी लोरी गाए…

तू ना होता ज़िंदगी में आहें होतीं सूनी-सूनी
फैली-फैली ममता की बाहें होतीं सूनी-सूनी – 2

सूनी-सूनी
होतीं मेरे दिल की राहें सूनी-सूनी
नींद परी लोरी गाए…

वापस ऊपर जाएँ

16. ऐ मेरी आंखों के पहले सपने

ऐ मेरी आंखों के पहले सपने
रंगीन सपने, मासूम सपने
पलकों का पलना झुलाऊं तुझे
गा-गा के लोरी सुलाऊं तुझे
ऐ मेरी आंखों के…

एक-एक पल गिनूं उस घड़ी के लिए
जिसकी उम्मीद में हर कोई मां जिए -2
ऐ मेरी आंखों के…
ओ…ऐ मेरी आंखों के…

मैं अभी से तेरी सुन रहा हूं सदा
दूर जैसे कहीं साज़ हो बज रहा-2
ऐ मेरी आंखों के पहले सपने…

वापस ऊपर जाएँ

17. आ री निंदिया की परी

आ री निंदिया की परी मेरी गुड़िया को सुला
चांद के पलने में मेरी मैना को झुला
गोद मेरी पलना, दिन भी तेरा बिछौना…2

तू जो बोले ला दूं गगन सितारों का हस्त खिलौना
तेरी सुरतिया इतनी सलौनी, मौसम जैसे सलोना
आ री निंदिया की परी मेरी गुड़िया को सुला
चांद के पलने में मेरी मैना को झुला
प्यार लिए पलके तलें धीरे-धीरे आना…2

दिल की कली जगे मीठे सुर में गाना
आंखों में तू घुल-मिल जाना, प्यारे सपने लाना
आ री निंदिया की परी मेरी गुड़िया को सुला
चांद के पलने में मेरी मैना को झुला…..

वापस ऊपर जाएँ

18. सो जा राजदुलारी

सो जा मेरी बिटिया रानी,
सो जा राजदुलारी!
सोया चंदा, सोए तारे,
नील गगन के पंछी सारे,
रंग-बिरंगी तितली सोई-
फूलों की फुलवारी।
सो जा राजदुलारी!
नभ से उतरा उड़नखटोला
नींद-परी ने घूंघट खोला,
सपनों की शहज़ादी लाई-
जादू-भरी पिटारी।
सो जा राजदुलारी!
मीठे-मीठे सपने आए,
अचक-पचक पलकों पर छाए
मंद हवा के झोंके देते-
थपकी प्यारी-प्यारी।
सो जा राजदुलारी!

वापस ऊपर जाएँ

19. सुरमई अंखियों में

सुरमई अंखियों में नन्हा-मुन्ना एक सपना दे जा रे-2
निंदिया के उड़ते पाखी रे, अंखियों में आ जा साथी रे…

सच्चा कोई सपना दे जा
मुझको कोई अपना दे जा
अनजाना-सा मगर कुछ पहचाना-सा
हल्का-फुल्का शबनमी
रेशम से भी रेशमी
सुरमई…

रात के रथ पर जाने वाले
नींद का रस बरसाने वाले
इतना कर दे कि मेरी आंखें भर दे
आंखों में बसता रहे, सपना ये हंसता रहे

सुरमई…

वापस ऊपर जाएँ

20. सो जा रे सो जा

सो जा रे सो जा
सो जा रे सो जा मेरी अंखियों के तारे
मेरे राज-दुलारे, राज-दुलारे
ओ तोहे सपनों की नगरी से निंदिया पुकारे
सो जा रे सो जा

परियों के बालक तारों के भेस में
तुझको बुलाने आए चंदा के देस में
चंदा के देस में सपनों का राज है
मेरे मुन्ने के लिए फूलों का ताज है
राज-दुलारे
ओ तोहे सपनों की नगरी से निंदिया पुकारे
सो जा रे सो जा

रेशम की डोरी होवे चांदी का पलना
प्यार हिंडोले सदा झूले मोरे ललना
जीवन के फूल खिले, ठंडी हवाओं में
फूले-फले मेरी आंचल की छांव में
राज-दुलारे
ओ तोहे सपनों की नगरी से निंदिया पुकारे
सो जा रे सो जा

वापस ऊपर जाएँ

21. टिम-टिम करते तारे

टिम-टिम करते तारे, ये कहते हैं सारे
सो जा तोहे सपनों में निंदिया पुकारे-2
टिम-टिम करते…

सपनों के देश का चंदा मामा राजा
बुला रहा है बजा-बजा के सात सुरों का बाजा
चोरी-चोरी खिड़की से करता है इशारे
टिम-टिम करते…

रंग-बिरंगी परियां तुझे झूले में झुलाएंगी-2
बिल्ली-तोता-मैना की कहानी भी सुनाएंगी
अच्छे-अच्छे तुझे खिलौने देंगी प्यारे-प्यारे
टिम-टिम करते…

बादलों की पालकी में मुन्ने को बिठा के-2
चंदा मामा सारा जग लाएगा घुमा के
लौट के आए शान से मेरा राजा मेरे द्वारे
टिम-टिम करते…

वापस ऊपर जाएँ

22. मैं गाऊं तुम सो जाओ

मैं गाऊं तुम सो जाओ
सुख सपनों में खो जाओ

माना आज की रात है लंबी
माना दिन था भारी
पर जग बदला
बदलेगी एक दिन तकदीर हमारी
उस दिन के ख्वाब सजाओ
मैं गाऊं तुम सो जाओ…

कल तुम जब आंखें खोलोगे
जब होगा उजियारा
खुशियों का संदेशा लेकर
आएगा सवेरा प्यारा
मत आस के दीप बुझाओ
मैं गाऊं तुम सो जाओ…

जी करता है जीते जी
मैं यूं ही गाता जाऊं
गर्दिश में थके हारों का
माथा सहलाता जाऊं
फिर इक दिन तुम दोहराओ
सुख सपनों में खो जाओ
मैं गाऊं तुम सो जाओ…

वापस ऊपर जाएँ

23. मैं जागूं, तू सो जाए

राम करे ऐसा हो जाए
मेरी निंदिया तोहे मिल जाए
मैं जागूं, तू सो जाए
मैं जागूं, तू सो जाए…

गुज़र जाएं सुख से तेरी दुख भरी रतियां
बदल लूं मैं तोसे अंखियां
बस में अगर हों ये बतियां
मांगूं दुआएं हाथ उठाए
मेरी निंदिया तोहे मिल जाए
मैं जागूं तू सो जाए
मैं जागूं, तू सो जाए …

तू ही नहीं, मैं ही नहीं
सारा ज़माना, दर्द का है एक फ़साना
आदमी हो जाए दीवाना
याद करे गर भूल न जाए
मेरी निंदिया तोहे मिल जाए
मैं जागूं, तू सो जाए
मैं जागूं, तू सो जाए…

स्वप्न चला आए कोई चोरी-चोरी
मस्त पवन गाए लोरी
चंद्र किरण बनके डोरी
तेरे मन को झूला झुलाए
मेरी निंदिया तोहे मिल जाए
मैं जागूं, तू सो जाए
मैं जागूं, तू सो जाए…

वापस ऊपर जाएँ

24. दो नैना एक कहानी

दो नैना और एक कहानी-2
थोड़ा-सा बादल थोड़ा-सा पानी
और एक कहानी
दो नैना और एक कहानी
थोड़ा-सा बादल थोड़ा-सा पानी
और एक कहानी
दो नैना और एक कहानी
छोटी-सी दो झीलों में वो
बहती रहती है
ओ छोटी-सी दो झीलों में वो
बहती रहती है
कोई सुने या ना सुने
कहती रहती है
कुछ लिख के और कुछ ज़ुबानी

हो थोड़ा सा बादल थोड़ा सा पानी
और एक कहानी
दो नैना और एक कहानी
थोड़ी-सी है जानी हुई
थोड़ी-सी नई
ओ थोड़ी-सी है जानी हुई
थोड़ी-सी नई
जहां रुके आंसू वहीं
पूरी हो गई
है तो नई फिर भी है पुरानी

हो थोड़ा-सा बादल थोड़ा-सा पानी
और एक कहानी
दो नैना और एक कहानी

एक खत्म हो तो दूसरी
रात आ जाती है
ओ एक खत्म हो तो दूसरी
रात आ जाती है
होठों पे फिर भूली हुई
बात आ जाती है
दो नैनों की है ये कहानी

हो थोड़ा-सा बादल थोड़ा-सा पानी
और एक कहानी
दो नैना और एक कहानी

वापस ऊपर जाएँ

25. तू ही मेरे नैनों का तारा

तू ही मेरे नैनों का तारा
तू ही मेरे जीने का सहारा
प्रभु ने दिया है जो मुझको
तू है वरदान वो प्यारा
मांगू दुआएं, ले लूं बलाएं
तुझपर आंच ना आए
पहुंचा ना कोई अब तक जहां पर
तू ऐसी मंज़िल है पाए
नहीं आकाश में होगा
एक भी तुझसा सितारा

तू ही मेरे नैनों का तारा
तू ही मेरे जीने का सहारा
प्रभु ने दिया है जो मुझको
तू है वरदान वो प्यारा

आ तुझको मैं झूला झुलाऊं
छोड़ ये खेल-खिलौना
आ जाएगी निंदिया रानी
लेके वो सपना सलोना

बादलों शोर ना करना
सोया है मुन्ना हमारा
तू ही मेरे नैनों का तारा…

वापस ऊपर जाएँ

26. चांदनी रे झूम

अंखियों में छोटे-छोटे सपने सजायके
बहियों में निंदिया के पंख लगायके
चंदा में झूले मेरी बिटिया रानी
चांदनी रे झूम, हो चांदनी रे झूम
यही तो कली है प्यारी मेरी सारी बगिया में-2
मैंने यही मोती पाया जीवन नदिया में
ममता लुटाऊं ऐसी मच जाए धूम
चांदनी रे झूम, हो चांदनी रे झूम
अंखियों में छोटे-छोटे सपने सजायके…

क्या-क्या मैंने तेरे लिए भेस बनाया है
हो क्या-क्या मैंने तेरे लिए भेस बनाया है
क्या नहीं बीती फिर भी तुझे बहलाया है
तेरे लिए मैं रहा गली-गली घूम
चांदनी रे झूम, हो चांदनी रे झूम
अखियों में छोटे छोटे सपने सजायके…

वापस ऊपर जाएँ

27. मैं गाऊं तू चुप हो जा

मैं गाऊं तू चुप हो जा
मैं जागूं रे तू सो जा

धरती की काया सोई
अंबर की माया सोई
झिलमिल तारों के नीचे
सपनों की छाया सोई
मैं ढूंढूं
हो मैं ढूंढूं रे तू खो जा
मैं जागूं रे तू सो जा

जाने हवाएं कहां खोईं
सागर की भी लहरें सोईं
दुनिया का सब दुखड़ा भर के
तेरी दो अंखियां रे क्यूं रोईं
आंसू के
हो आंसू के शबनम धो जा
मैं जागूं रे तू सो जा

आंसू तेरे मुझको दे दे
बदले में मेरी हंसी ले ले
तेरा तो मन सुख से खेले
मेरा हृदय तेरा दुख झेले
नए बीज
नये बीज खुशी के बो जा
मैं जागूं रे तू सो जा
मैं गाऊं तू चुप हो जा
मैं जागूं रे तू सो जा

वापस ऊपर जाएँ

28. ओ निंदिया रानी

सपने ले आ जा रे
ओ निंदिया रानी
सपनों के देश से सपने ले आ
अंखियों को छू ले
ओ निंदिया रानी
तू अंखियों में आके बस जा
परी लोक में ले चल
ओ निंदिया रानी
परियों से तू हमें मिलवा
चांद की किरणों पे ले चल
ओ निंदिया रानी
चांद की सैर तू हमें करवा
सितारों के पास ले चल निंदिया रानी
सितारों के संग तू ले जा निंदिया रानी
जब तक रात है ओ प्यारी निंदिया रानी
हमारे पास तू रह जा निंदिया रानी

वापस ऊपर जाएँ

29. चंदा है तू

चंदा है तू, मेरा सूरज है तू
ओ मेरी आंखों का तारा है तू-3
जीती हूं मैं बस तुझे देखकर
इस टूटे दिल का सहारा है तू
चंदा है तू, मेरा सूरज है तू

तू खेले खेल कई, मेरा खिलौना है तू-2
जिससे बंधी हर आशा मेरी
मेरा वो सपना सलोना है तू
नन्हा-सा है कितना सुंदर है तू
छोटा-सा है कितना प्यारा है तू
चंदा है तू, मेरा सूरज है तू

पूर्वाई वन में उड़े, पंछी चमन में उड़े-2
राम करे कभी होके बड़ा
तू बनके बादल गगन में उड़े
जो भी तुझे देखे वो ये कहे
किस मां का ऐसा दुलारा है तू
चंदा है तू, मेरा सूरज है तू…

वापस ऊपर जाएँ

30. प्यारा हमारा मुन्ना

प्यारा हमारा मुन्ना नैनों का तारा
दिल का सहारा ये चमचम सितारा-2

भारत मां के प्यार सलोने मेरे खिलौने-2
चंदा हंसेगा, रोना नहीं ओ सलोने-2

मेरे कन्हइया रे होगा प्रताप, शिवाजी तू
मेरे कन्हइया रे होगा प्रताप, शिवाजी तू
तू ही दिल की भाषा रे, भारत की आशा
फूलो-फलो मोरे लाल रे
भारत की आशा
जुग-जुग जियो मोरे लाल रे

प्यारा हमारा मुन्ना नैनों का तारा
दिल का सहारा ये चमचम सितारा…

वापस ऊपर जाएँ

लोरियों की इस लिस्ट में हमने सभी लोकप्रिय लोरियों को शामिल करने की कोशिश की है, लेकिन फिर भी अगर कोई लोरी छूट गई हो तो उसके बारे में हमें ज़रूर बताएं। साथ ही लोरियों की ये लिस्ट अपनी ऐसी सहेलियों के साथ शेयर करना ना भूलें, जो हाल-फ़िलहाल में ही मां बनी हैं।

Click
The following two tabs change content below.

Latest posts by shivani verma (see all)

shivani verma

Featured Image