5 बेबी प्रोडक्ट्स, जो रखेंगे आपके शिशु की त्वचा को मुलायम और स्वस्थ

five-baby-products-which-keeps-your-baby-skin-soft-healthy

Image: Shutterstock

परिवार में नन्हे मेहमान के आते ही पूरा घर खुशियों से भर जाता है। साथ ही उसके देखभाल और सही पोषण की चिंता सभी को होती है। इसमें कोई दो राय नहीं कि नवजात शिशु का ख्याल रखना एक बड़ी चुनौती है। उसकी त्वचा इतनी कोमल और संवेदनशील होती है कि जरा-सी लापरवाही भी भारी पड़ जाती है। उन्हें एलर्जी, रैशेज और अन्य त्वचा संबंधी परेशानी कभी भी हो सकती है। ऐसे में डॉक्टर शिशु के लिए बेस्ट बेबी प्रोडक्ट इस्तेमाल करने की सलाह देते हैं। कभी-कभी सही बेबी प्रोडक्ट का चुनाव करना एक चुनौती बन जाता है। इसलिए, शिशु के लिए प्राकृतिक जड़ी-बूटियों से निर्मित उत्पादों का प्रयोग करना चाहिए। ऐसे में हर्बल ब्रांड का चयन करना सबसे सही रहता है और ‘हिमालय’ उन्हीं हर्बल ब्रांड में से एक है।

इस लेख में हम हिमालय के टॉप 5 बेबी प्रोडक्ट्स के बारे में बता रहे हैं, जिससे आपके शिशु की त्वचा मुलायम और स्वस्थ रहेगी।

1. हिमालय एक्स्ट्रा मॉइस्चराइजिंग बेबी सोप (Himalaya Extra Moisturizing Baby Soap)

Himalaya Extra Moisturizing Baby Soap

माता-पिता के लिए शिशु को नहलाना कोई जंग लड़ने से कम नहीं होता। उनके सामने सबसे पहली चुनौती होती है शिशु को नहलाने के लिए सही साबुन का चयन करना। शिशु की कोमल त्वचा के लिए कोमल साबुन की जरूरत होती है, जो उनकी त्वचा को मॉइस्चराइज करे। ऐसे में ‘हिमालय एक्स्ट्रा मॉइस्चराइजिंग बेबी सोप’ एक अच्छा विकल्प है। अगर आपके शिशु की त्वचा बहुत ड्राई है, तो यह साबुन आपके शिशु के लिए उत्तम है। इसमें बादाम तेल, जैतून तेल, एलोवेरा और दूध के गुण हैं, जो शिशु की त्वचा के रूखेपन को कम करते हैं।

साबुन के महत्वपूर्ण गुण

  • जैतून का तेल, विटामिन-ई के साथ त्वचा की रक्षा करता है और उसे नरम बनाने में मदद करता है।
  • इस साबुन में मौजूद दूध त्वचा के टेक्सचर को सुधारकर त्वचा को कोमल और मुलायम बनाता है।
  • बादाम तेल त्वचा को मॉइस्चराइज कर कोमलता प्रदान करता है। वहीं, तेल में मौजूद विटामिन त्वचा को किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाता है।
  • एलो त्वचा को मुलायम कर आराम देता है और त्वचा को हाइड्रेट रखता है।
  • इसे गीले चेहरे और शरीर पर लगाया जाना चाहिए, ताकि झाग हो और फिर पानी से धो लें।

यह साबुन बाजार में आसानी से उपलब्ध है। इसके अलावा, आप शिशु के लिए हिमालय नरशिंग बेबी सोप (Himalaya Nourishing Baby Soap) का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

2. हिमालय बेबी क्रीम (Himalaya Baby Cream)

Himalaya Baby Cream

साबुन चाहे जितना भी कोमल हो, लेकिन शिशुओं को नहलाने के बाद उनकी त्वचा को मॉइस्चराइज रखने के लिए क्रीम की जरूरत होती है। ऐसे में हिमालय की बेबी क्रीम आपके शिशु की त्वचा के लिए बहुत ही उत्तम साबित होगी। इसे विशेषरूप से आपके शिशु की कोमल त्वचा को और कोमल रखने के लिए बनाया गया है। इस बेबी क्रीम में कुछ विशेष सामग्रियां जैसे – जैतून का तेल, टिनोस्पोरा गुलचा (Tinospora Gulancha) व मुलेठी (Licorice) शामिल है।

क्रीम की खासियत

  • विटामिन-ई से समृद्ध जैतून का तेल आपके बच्चे की त्वचा के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद करता है और चमक को बढ़ाता है।
  • इस क्रीम में कंट्री मैलो (Country mallow) होता है, जो एक प्रकार का एंटीऑक्सीडेंट है। यह शिशु की त्वचा की रक्षा करता है।
  • मुलेठी आपके नन्हे की त्वचा के लिए सुरक्षा परत की तरह काम करती है और रैशेज से राहत दिलाती है।
  • यह क्रीम शिशु को नहलाने के बाद उसकी नाक, गाल, घुटनों और कोहनी की नाजुक त्वचा पर लगाया जा सकता है। इसे आंखों के आसपास लगाने से बचना चाहिए।
  • यह बेबी क्रीम बाजार में और ऑनलाइन आसानी से उपलब्ध है।

3. हिमालय बेबी लोशन (Himalaya Baby Lotion)

Himalaya Baby Lotion

बेबी मॉइस्चराइजर के बाद अब बारी आती है बेबी लोशन की। बेबी लोशन आपके शिशु की त्वचा के लिए सुरक्षा परत की तरह काम करता है। अगर बात करें बेबी लोशन की, तो हिमालय बेबी लोशन आपके शिशु की त्वचा के लिए उत्तम है। यह आपके शिशु की त्वचा को किसी भी प्रकार के संक्रमण से बचाएगा। इसमें जैतून का तेल, बादाम का तेल और मुलेठी के गुण शामिल हैं।

हिमालय बेबी लोशन के गुण

  • जैतून के तेल में विटामिन-ई होता है, जो त्वचा को पोषण और सुरक्षा प्रदान करता है और त्वचा को नरम बनाता है।
  • इसमें एंटीऑक्सीडेंट गुण भी मौजूद होते हैं, जो शिशु की कोमल त्वचा का बचाव करते हैं ।
  • बादाम तेल आपके शिशु की त्वचा को प्राकृतिक तरीके से कोमल बनाएगा। यह शिशु की त्वचा पर मॉइस्चराइजर की तरह काम करेगा। तेल में मौजूद विटामिन-ए न सिर्फ संक्रमण के साथ लड़ेगा, बल्कि हड्डियों के विकास में भी अहम भूमिका निभाएगा।
  • मुलेठी आपके शिशु की त्वचा को सुरक्षित रखेगी और किसी भी प्रकार की सूजन, जलन या एलर्जी से राहत दिलाएगी।
  • इसे शिशु को नहलाने के बाद लगाएं। इसके अलावा, जब भी शिशु की त्वचा शुष्क लगे, इसे लगा सकते हैं।
  • हालांकि, इसे लगाते वक्त ध्यान रहे कि यह आपके शिशु के आंख या मुंह में न जाए।
  • यह बाजार में तीन तरह के साइज में उपलब्ध है।

4. हिमालय बेबी मसाज ऑयल (Himalaya Baby Massage Oil)

Himalaya Baby Massage Oil

जिस तरह से शिशु के लिए सही साबुन, क्रीम और लोशन की जरूरत होती है, वैसे ही शिशु के लिए सही तेल का चुनाव करना भी जरूरी है। शिशु के सही विकास के लिए और मजबूत हड्डियों के लिए मालिश बहुत जरूरी है। ऐसे में शिशु के लिए आप हिमालय बेबी मसाज ऑयल का चुनाव कर सकते हैं। यह शोधित और प्रमाणित है, इसलिए यह तेल काफी हल्का होता है और इसे आप शिशु को नहलाने से पहले और बाद भी इस्तेमाल किया जा सकता है। यह त्वचा को अच्छी तरह से मॉइस्चराइज करता है। इसमें जैतून का तेल और विंटर चेरी एसीटेट शामिल हैं।

मसाज ऑयल की खासियत

  • जैतून का तेल और विटामिन-ई आपके बच्चे की कोमल त्वचा को पोषण देने और उसकी सुरक्षा करने में मदद करते हैं, जिससे त्वचा नरम और मुलायम हो जाती है।
  • इसमें मौजूद एंटीबैक्टीरियल गुण त्वचा को आराम देकर उसकी चमक को बढ़ाते हैं।
  • बेबी ऑयल की मालिश से आपके शिशु के क्यूटिकल नर्म होते हैं और नाखूनों में मजबूती आती है।
  • विंटर चेरी आपके बच्चे की त्वचा की रंगत को निखारता है और ठंडक का एहसास दिलाता है।
  • आप नहलाने से आधा घंटा पहले इस तेल से शिशु की मालिश कर सकते हैं।
  • यह बाजार में तीन साइज में उपलब्ध हैं, आप चाहें तो ऑनलाइन भी आर्डर कर सकते हैं।

5. हिमालय बेबी पाउडर (Himalaya Baby Powder)

Himalaya Baby Powder

शिशु की मुलायम त्वचा के लिए पाउडर भी अहम भूमिका निभाता है। खासकर जब गर्मी का मौसम हो, तब पाउडर की ज्यादा जरूरत होती है। ऐसे में हिमालय बेबी पाउडर (Himalaya Baby Powder) शिशु की त्वचा को कोमल बनाए रखने में मदद करेगा। यह आपके शिशु की त्वचा के रूखेपन को खत्म करके त्वचा को ठंडक और आराम का एहसास दिलाता है। बादाम का तेल, जैतून का तेल, खसखस और प्राकृतिक जिंक इसकी मुख्य सामग्रियां हैं।

  • विटामिन-ई युक्त जैतून का तेल त्वचा को पोषण, सुरक्षा और नरम बनाने में मदद करता है। इसमें मौजूद कई एंटी-माइक्रोबियल गुण शिशु की त्वचा को कोमल बनाते हैं।
  • बादाम तेल त्वचा को मॉइस्चराइज और हाइड्रेट करता है। वहीं विटामिन त्वचा संक्रमण से लड़ता है और हड्डियों के विकास में मदद करता है।
  • खसखस आपके शिशु के शरीर में पसीना और पसीने की बदबू होने से रोकता है।
  • प्राकृतिक जिंक का उपयोग पारंपरिक रूप से विभिन्न आयुर्वेदिक चीजों में किया जाता रहा है, क्योंकि इसमें कई एंटीसेप्टिक गुण होते हैं।
  • इस पाउडर को अपने शिशु के शरीर के नाजुक हिस्सों जैसे – चेहरे, घुटनों और कोहनी पर नहलाने के बाद लगा सकते हैं।
  • यह पाउडर बाजार और ऑनलाइन में चार तरह के साइज में उपलब्ध है।

याद रखें कि आपके शिशु को खास ख्याल की जरूरत होती है। हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके शिशु को बेहतर से बेहतर सुविधा और सुरक्षा मिलें और मापदंड पर हिमालय के उत्पाद खरे उतरते हैं। अगर आपने अभी तक हिमालय को अपने शिशु के लिए नहीं चुना है, तो अब भी देर नहीं हुई है। आप इन उत्पादों को इस्तेमाल करके देखिए, फर्क खुद-ब-खुद नजर आएगा।

Featured Image