रामायण की कहानियां

पुरुषोत्तम श्री राम का चरित्र गुणों से भरा हुआ है। त्रेता युग के न्यायप्रिय राजा श्रीराम की कहानियां बालकों के मन में नीति और धर्म के लिए जगह बनाने में मदद कर सकती हैं। इतिहास के दो महान कवियों ने रामायण की कथा लिखी है। महर्षि वाल्मीकि ने संस्कृत में रामायण और तुलसी दास ने अवधी भाषा में रामचरित मानस को लिखा। बच्चों के लिए ये दोनों भाषाएं कठिन हो सकती हैं। इसलिए, हम मॉमजंक्शन के कहानी सेक्शन में रामायण की कहानियां बिल्कुल सरल भाषा में लेकर आए हैं। इन कहानियों की मदद से आप अपने बच्चों को इतिहास के बारे में जानकारी दे सकते हैं। रामायण की कहानियां भारत की महान संस्कृति का उदाहरण हैं। एक ओर जहां भगवान राम, लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न का आपसी प्यार एकता में शक्ति की सीख देता है, तो वहीं दूसरी ओर माता सीता का समर्पण आने वाली पीढ़ियों को रास्ता दिखा सकता है। रावण के चरित्र से भी ये शिक्षा दी जा सकती है कि बुरे कर्मों का फल जरूर मिलता है। इसीलिए, इंसान को कभी अहंकार नहीं करना चाहिए। साथ ही ये कहानियां कठिन समय का सामना संयम के साथ करने की सीख भी देती हैं। साथ ही रामायण की कथा माता-पिता का आदर करना व अनुशासन में रहने की सीख भी देती है। आप इन कथाओं के जरिए बच्चों को बुराई पर अच्छाई की जीत का पाठ सिखाते हुए उनके मन में अच्छे संस्कारों को विकसित कर सकते हैं।

Category

|

Filters

scorecardresearch