बच्चे को एक्टिव रखने के 15+ टिप्स | How To Make A Child Active In Hindi

6 Surprising Ways Toys Can Help Your Baby Learn

Image: Shutterstock

IN THIS ARTICLE

बच्चा अगर एक्टिव हो और हर कार्य में उत्साह दिखाए ,तो माता-पिता को खुशी होती है। कई बच्चे इसके बिल्कुल विपरित होते हैं। घर से बाहर जाने में आलस दिखाते हैं या दोस्तों के साथ खेलने से मना कर देते हैं। ऐसे में बच्चे को एक्टिव बनाने के लिए सही कदम उठाए जाएं, तो बच्चा आलस्य छोड़कर सक्रिय हो सकता है। इसके लिए मॉमजंक्शन का यह आर्टिकल पढ़ें। यहां हमने बच्चे को एक्टिव बनाने के ढेर सारे टिप्स दिए हैं।

सबसे पहले जानते हैं कि बच्चे का शारीरिक रूप से सक्रिय होना क्यों जरूरी है। 

बच्चे को शारीरिक रूप से सक्रिय रखना क्यों जरूरी है ?

बच्चा सुस्त हो, तो किसी को अच्छा नहीं लगता। यह आदत उसके विकास में बाधा बन सकती है। यहां हम बता रहे हैं कि बच्चे का सक्रिय होना क्यों जरूरी है (1)

  • बच्चे का सक्रिय होना मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य के लिए जरूरी है।
  • अगर बच्चा शारीरिक रूप से सक्रिय रहता है, तो उसे कम तनाव महसूस होगा।
  • शिशु का सक्रिय होना उसकी हड्डियों, मांसपेशियों और जोड़ों के निर्माण में मदद करता है।
  • बच्चा अगर शारीरिक रूप से सक्रिय होगा, तो वजन नियंत्रित रहेगा।
  • शारीरिक रूप से सक्रिय रहने से रात को बेहतर नींद आने की संभावना बढ़ जाती है।
  • सक्रियता से नया सीखने की क्षमता का विकास होता है।

बच्चे को एक्टिव कैसे रखा जा सकता है, जानने के लिए आगे पढ़ें।

बच्चे को एक्टिव रखने के 15+ टिप्स | bache ko active rehna kaise sikhaye

हम ऊपर बता ही चुके हैं कि बच्चे के विकास के लिए उसका एक्टिव रहना जरूरी है। यहां हम कुछ टिप्स दे रहे हैं, जिन्हें अपनाकर बच्चे को एक्टिव बनाया जा सकता है। 

  1. बचपन से ही शुरुआत करें – छोटे बच्चे खेलना और सक्रिय रहना ज्यादा पसंद करते हैं। बचपन से ही उन्हें खेल के लिए प्रोत्साहित करें। ऐसा करने से उन्हें शारीरिक रूप से सक्रिय जीवन शैली में ढलने की आदत पड़ जाएगी (2)
  1. खुद अपनाएं स्वस्थ आदतें – बच्चे वही सीखते हैं, जो देखते हैं। आसपास के माहौल का उनपर गहरा असर पड़ता है। ऐसे में एक सक्रिय जीवन शैली अपनाकर बच्चे के लिए सकारात्मक उदाहरण प्रस्तुत करें।
  1. शारीरिक गतिविधियों में साथ दें – खुद भी बच्चे के साथ सैर पर जाएं, इससे बच्चा एक्टिव रह सकता है। रोजाना बच्चे के साथ खेलना और सैर पर जाने से वह अपनी दिनचर्या में इसे शामिल करने के लिए प्रोत्साहित होगा (2)। इससे बच्चे की शारीरिक गतिविधि में दिलचस्पी बढ़ेगी, जो उसे एक्टिव रखने में मदद करेगा।
  1. आउटडोर गेम्स दें – बच्चों को ऐसे खिलौने दें, जो उसे शारीरिक गतिविधि के लिए प्रोत्साहित करें। बच्चा जब बाहर जाकर खेलेगा, तो शारीरिक रूप से सक्रिय होगा। उन्हें फुटबॉल, क्रिकेट किट, बैडमिंटन रैकेट जैसे गेम भी गिफ्ट कर सकते हैं (2)
  1. बढ़ावा दें – अगर बच्चा किसी शारीरिक गतिविधि में भाग लेता है, तो उसे बढ़ावा दें। साथ ही अन्य खेलों में भाग लेने की दिलचस्पी दिखाने की सलाह दें और उसके लिए प्रोत्साहित भी करते रहें (2)
  1. मजेदार बनाएं खेल – बच्चा शारीरिक रूप से सक्रिय हो, इसके लिए खेल को मजेदार बनाएं। ऐसे खेल को प्राथमिकता दें, जो बच्चे को पसंद हो। अधिकतर बच्चों को चुनौती वाले खेल पसंद आते हैं। ऐसे में छुपन-छुपाई, रेस या साइकिल चलाने की प्रतियोगिता रख सकते हैं। हां, इस बात का खास ख्याल रखें कि भले ही बच्चा जीते या हारे, उसका हौसला बढ़ाना जरूरी है। साथ ही उसे खेल की बारीकियां भी सिखाएं। इससे वह प्रोत्साहित होगा (2)
  1. रात के खाने के बाद बाहर निकलें – रोजाना रात में खाने के बाद टेलीविजन देखने के बजाय बच्चे को घुमाने ले जाएं। उसे दोस्तों के साथ साइकलिंग करने जाने की भी सलाह दे सकते हैं। इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि बच्चा गतिविधियां करते समय हेलमेट, कलाई पैड या घुटने के पैड जैसे सुरक्षा उपकरणों का इस्तेमाल जरूर करे (2)
  1. सीढ़ियां चढ़ना – बच्चे की गतिविधियों में सप्ताह में कम-से-कम 3 दिन चढ़ाई या पुश-अप जैसी मांसपेशियों को मजबूत करने वाली गतिविधियों को शामिल करें (3)। इसके लिए लिफ्ट का उपयोग न करके उसे सीढ़ी से आने-जाने के लिए कहें (4)। साथ ही दीवार के सहारे पुशअप करने की प्रतियोगिता उसके साथ रखें।
  1. पैदल तय करें स्कूल से घर की दूरी : अगर बच्चे के स्कूल से घर की दूरी 5 से 10 मिनट है, तो कोशिश करें कि बच्चे को गाड़ी से छोड़ने और लेने जाने की जगह पैदल ही जाएं। इससे बच्चे की शारीरिक गतिविधि बढ़ेगी और उसे एक्टिव रखने में मदद मिल सकती है। साथ ही पड़ोसियों के साथ मिलकर एक वॉकिंग क्लब भी बना सकते हैं। इसके तहत बच्चे समय-समय पर सारे पड़ोस के बच्चों के साथ मिलकर वॉक पर जाएंगे (4)
  1. पार्क में दौड़ाएं या घूमाने के लिए ले जाएं – बच्चे की रोजाना गतिविधि में कूदना, दौड़ना जैसे खेल शामिल करें। इससे हड्डियां मजबूत भी होंगी और बच्चा एक्टिव भी रहेगा (3)। इसके लिए उसे पार्क या मैदान में ले जाकर एक-दो चक्कर लगाने या दौड़ने के लिए कह सकते हैं। ऐसा हफ्ते में कम से कम 3 दिन करना चाहिए। बच्चा इसके लिए राजी न हो, तो उसे पूरे परिवार के साथ एक बड़े से पार्क या जू में घूमाने के लिए ले जाएं। यहां पैदल चलते हुए पूरे इलाके को घूमें (5)
  1. पौष्टिक आहार – बच्चा सक्रिय रहे, इसके लिए जरूरी है कि खाना पौष्टिक तत्वों से भरपूर हो। ऐसे में चिप्स और डोनट्स जैसे उच्च वसा वाले खाने के बजाए, फल और कच्ची सब्जियां, जैसे कि अजवाइन और गाजर देने की कोशिश करें। जूस और कोल्ड ड्रिंक पर एक सीमा निर्धारित करें। इनके बजाय पानी पीने के लिए प्रोत्साहित करें (4)
  1. घर के कामों में लें मदद – खाना बनाते समय बच्चों को शामिल करें। बच्चे जब खाना बनाने में हिस्सेदारी रखेंगे। इसके अलावा, पालतु जानवर को सैर पर ले जाने का काम उसे करने के लिए कहें। इसके अलावा, घर को धोना, कार साफ करना या अन्य गाड़ी साफ करने में भी बच्चे की मदद लें (5)
  1. बेडरूम में न लगाएं टीवी – बच्चा के कमरे में अगर टीवी होगी, तो वो टीवी ज्यादा देखेंगे और शारीरिक गतिविधि कम करेंगे। रिसर्च से पता चलता है कि जिन बच्चों के कमरे में टीवी होता है, वो रोजाना टीवी देखने वालों की तुलना में 1.5 घंटे अधिक टीवी देखते हैं (5)। बच्चा टीवी में व्यस्त रहेगा, तो बाहर निकलने से जी चुराएगा। साथ ही इससे उसकी नींद भी प्रभावित होगी।जी हां, अधिकतर बच्चे टीवी और मोबाइल के चक्कर में पूरी नींद नहीं ले पाते हैं। ऐसे में उन्हें इनसे दूर रखें। जब बच्चे नींद पूरी नहीं कर पाते, तो दिनभर आलस्य दिखाते हैं। ऐसे में उनका एक टाइम टेबल बनाएं और उसे फॉलो करने के लिए कहें। इससे बच्चे की नींद भी पूरी होगी और वो चुस्त भी रहेगा।
  1. खाते समय टीवी न देखें –  बच्चा अगर खाते समय टीवी या अन्य इलेक्टॉनिक सामान इस्तेमाल करता है, तो वो धीरे-धीरे खाना खाएगा और ओवर ईटिंग करेगा (6) इससे मोटापा बढ़ने की आशंका रहती है (7)। साथ ही मोटापा अपने साथ कई बीमारियों को लाता है और व्यक्ति को आलसी बना देता है (8)। ऐसे में बेहतर होगा कि नियम बना लें कि खाते समय टीवी या अन्य इलेक्ट्रॉनिक सामान का इस्तेमाल न किया जाए।
  1.  डांसिंग क्लास – बच्चे को एक्टिव बनाने के टिप्स में डांस क्लास भी शामिल है। इसमें कई तरह की शारीरिक गतिविधियां होती हैं। इससे बच्चे को एक्टिव बनाने में काफी मदद मिलेगी। बस इसके लिए आपको उसे डांस क्लास या कोई दूसरा स्पोर्ट ज्वॉइन करवा दें (5)।अगर बच्चा बहुत ज्यादा आलसी हो गया है, तो पूरा परिवार ही डांस क्लास या दूसरे स्पोर्ट में शामिल हो जाए, तो और बेहतर होगा (5)। इससे बच्चे को यह नहीं लगेगा कि आप सिर्फ उसे ही ये सब करवाकर दंड दे रहे हैं। इससे वो ये समझेगा कि शारीरिक गतिविधि अच्छी होती है, इसलिए पूरा परिवार मिलकर ये सब कर रहा है (4) 
  1.  बैठे रहने की जगह चलने के लिए कहें – आलस्य में आकर बच्चे अधिकतर बैठे रहना ही पसंद करते हैं। ऐसे में उन्हें बैठने के बजाए चलने के लिए प्रेरित करें (4)। जैसे कि परिवार के किसी व्यक्ति का फोन आया है और बच्चा बैठकर उनसे बात कर रहा है, तो उसे कहें कि वो चलते हुए उनसे बात करे। बच्चे  को एग्जाम के लिए कुछ याद करना है, तो बैठे-बैठे पढ़ने के बजाए चलते हुए पढ़ने के लिए कहें। यही नहीं, खुद भी बच्चे के लिए उदाहरण पेश करें, ताकि बच्चा भी उसे फॉलो करे (5)

बच्चा चुस्त और तंदरुस्त हो, तो उसकी खिलखिलाहट पूरे घर में गूंजती है। इसी के उलट अगर बच्चा सुस्त और आलस्य से भरा रहे, तो घर की रोनक भी कम हो जाती है और उसके स्वास्थ्य पर भी खराब असर पड़ता है। ऐसे में बच्चे को शारीरिक रूप से सक्रिय बनाने के लिए परिवार को एकसाथ आना जरूरी है। इसके लिए लेख में बताए गए टिप्स को अपनाएं और देखें कि कैसे बच्चा वक्त के साथ एकदम एक्टिव हो जाता है।

References:

MomJunction's articles are written after analyzing the research works of expert authors and institutions. Our references consist of resources established by authorities in their respective fields. You can learn more about the authenticity of the information we present in our editorial policy.
  1. Exercise for Children
    https://medlineplus.gov/exerciseforchildren.html
  2. Making Physical Activity a Part of a Child’s Life
    https://www.cdc.gov/physicalactivity/basics/adding-pa/activities-children.html
  3. How much physical activity do children need?
    https://www.cdc.gov/physicalactivity/basics/children/index.htm
  4. Healthy active living for children and youth
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2795628/
  5. Helping Your Child: Tips for Parents and Other Caregivers
    https://www.niddk.nih.gov/health-information/weight-management/healthy-eating-physical-activity-for-life/helping-your-child-tips-for-parents
  6. Television and eating: repetition enhances food intake
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC4630539/
  7. Stress overeating and obesity: insights from human studies and preclinical models
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC5403578/
  8. Obesity Stigma: Important Considerations for Public Health
    https://www.ncbi.nlm.nih.gov/pmc/articles/PMC2866597/
The following two tabs change content below.