✔ Fact Checked

प्रेगनेंसी में प्याज खाना चाहिए या नहीं? | Pregnancy Me Pyaj (Onion) Khana Chahiye

भोजन में प्याज का अहम स्थान है। खासकर, उत्तर भारत के अधिकांश व्यंजन इसके बिना अधूरे हैं। प्याज भोजन का जायका बढ़ाने के साथ-साथ शरीर की कई तकलीफों को दूर करने का काम भी करता है, लेकिन क्या इसका सेवन गर्भावस्था के दौरान किया जा सकता है? मॉमजंक्शन के इस लेख में जानिए प्रेगनेंसी में प्याज खाना चाहिए या नहीं। साथ में जानिए प्याज गर्भावस्था के दौरान किस प्रकार फायदा पहुंचा सकता है और इसे खाने के तरीके क्या-क्या हो सकते हैं।

सबसे पहले लेख के इस भाग में जानते हैं कि प्रेगनेंसी में प्याज खाना सुरक्षित है या नहीं।

In This Article

क्या प्रेगनेंसी में प्याज खाना सुरक्षित है?

हां, आप गर्भावस्था में प्याज खा सकते हैं (1) (2) (3), । दरअसल, प्याज में प्रचुर मात्रा में सल्फर मौजूद होता है, जो शरीर में आयरन और जिंक के अवशोषण को 26% और 14% तक बढ़ा सकता है। इसके अलावा, प्याज की हर एक परत पौष्टिकता से भरपूर होती है। ज्यादा से ज्यादा स्वास्थ्य लाभ के लिए प्याज को अधिक न छीलें, क्योंकि इसकी परत में फ्लेवोनोइड्स होते हैं, जो सेहत के लिए फायदेमंद हो सकते हैं। बस ध्यान रहे कि आप इसका सेवन संतुलित मात्रा में करें, क्योंकि इसकी अधिक मात्रा का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। इसकी चर्चा हम लेख में आगे करेंगे।

अब जब आप यह जान चुके हैं कि प्रेगनेंसी में प्याज खाना सुरक्षित है, तो यह जान लेना भी जरूरी है कि इसकी कितनी मात्रा खाई जा सकती है।

प्रेगनेंसी में प्याज कितनी मात्रा में खाना चाहिए?

आप पूरे दिन में लगभग एक से आधा कप प्याज का सेवन कर सकते हैं (4)। एक दिन में आप कितनी बार प्याज खा सकते हैं, इसके बारे में आपको सटीक सलाह डॉक्टर से ही मिल सकती है। डॉक्टर आपकी गर्भावस्था को ध्यान में रखते हुए आपको प्याज खाने संबंधी सही जानकारी देंगे।

आगे जानिए कि गर्भावस्था में प्याज कब खाना चाहिए।

प्रेगनेंसी में प्याज कब खाना चाहिए?

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि गर्भावस्था में प्याज का सेवन सुरक्षित है, लेकिन इसे प्रेगनेंसी में कब खाना चाहिए इसकी सही जानकारी आपको डॉक्टर ही दे सकता है। इसलिए, प्रेंगनेंसी में खान-पान पर विशेष ध्यान देने की जरूरत होती है।

लेख के इस भाग में जानिए कि प्याज में कौन-कौन से पोषक तत्व मौजूद हैं, जो इसे इतना गुणकारी बनाते हैं।

प्याज के पोषक तत्व

यहां हम टेबल दे रहे हैं, जिसमें बताया गया है कि प्याज में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं और उनकी मात्रा कितनी होती है (5)

पोषक तत्व  प्रति 100 ग्राम
जल 89.11 ग्राम
ऊर्जा 40 केसीएल
प्रोटीन 1.10 ग्राम
टोटल लिपिड (फैट)  0.10 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट  9.34 ग्राम
फाइबर 1.7 ग्राम
शुगर  4.24 ग्राम
मिनरल
कैल्शियम  23 मिलीग्राम
आयरन  0.21 मिलीग्राम
मैग्नीशियम 10 मिलीग्राम
फास्फोरस  29 मिलीग्राम
पोटैशियम 146 मिलीग्राम
सोडियम  4 मिलीग्राम
जिंक  0.17 मिलीग्राम
विटामिन
विटामिन सी  7.4 मिलीग्राम
थियामिन  0.046 मिलीग्राम
राइबोफ्लेविन  0.027 मिलीग्राम
नियासिन  0.116 मिलीग्राम
विटामिन बी-6 0.120 मिलीग्राम
फोलेट 19 माइक्रोग्राम
विटामिन बी-12  0.00 माइक्रोग्राम
विटामिन ए, आरएई  0 माइक्रोग्राम
विटामिन ए, आईयू 2 आईयू
विटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरोल) 0.02 मिलीग्राम
विटामिन डी (डी2 + डी3)  0.0 माइक्रोग्राम
विटामिन डी    0 आईयू
विटामिन के  0.4 माइक्रोग्राम
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड  0.042 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड  0.013 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड 0.017 ग्राम
फैटी एसिड, टोटल ट्रांस 0.000 ग्राम
कोलेस्ट्रॉल  0 मिलीग्राम

अब जब आप जान चुके हैं कि प्याज में इतने सारे पोषक तत्व मौजूद हैं, तो क्यों न इसके फायदे भी जान लिए जाएंं।

प्रेगनेंसी में प्याज खाने के फायदे

नीचे जानिए कि प्रेगनेंसी में प्याज कैसे फायदेमंद है।

  1. हड्डियों और दांतों के लिए प्याज में विटामिन-सी मौजूद होता है, जो इम्यून पावर को बढ़ाने में मदद कर सकता है। साथ ही यह दांतों और हड्डियों को स्वस्थ रखने में सहयोग करता है। इसके अलावा, यह घाव भरने में भी मददगार साबित हो सकता है (6) (7)
  1. कब्ज से राहत – गर्भावस्था के दौरान कब्ज की समस्या सामान्य है। अगर प्रेगनेंसी के दौरान कब्ज से राहत चाहिए, तो प्याज का सेवन किया जा सकता है। प्याज में फाइबर मौजूद होता है, जो कब्ज की परेशानी से आराम दिलाने में मदद कर सकता है (8) (9)
  1. कैल्शियम – गर्भावस्था के दौरान कैल्शियम भी एक अहम पोषक तत्व होता है, जो प्रीक्लेम्पसिया (preeclampsia) के जोखिम को कम कर सकता है। प्रीक्लेम्पसिया, गर्भावस्था के दौरान एक गंभीर रक्तचाप विकार है, जिसमें रक्तचाप अचानक बढ़ जाता है (10) (5)
  1. फोलेट – इसमें फोलिक एसिड या फोलेट मौजूद होता है, जो शिशु को कई तरह के जन्म दोष से बचाव कर सकता है। इसलिए, गर्भावस्था में गर्भवती के लिए फोलिक एसिड जरूरी माना जाता है (5) (11)
  1. जेस्टेशनल डायबिटीज – गर्भावस्था के दौरान कई महिलाएं डायबिटीज का शिकार होती हैं, जिसे जेस्टेशनल डायबिटीज के नाम से जाना जाता है। जब गर्भवती के खून में ग्लूकोज की मात्रा बढ़ जाती है, तो जेस्टेशनल डायबिटीज होता है (12)। ऐसे में प्याज का सेवन प्रेगनेंसी के दौरान डायबिटीज से बचाव कर सकता है (4)
  1. एंटीबायोटिक गुणगर्भावस्था के दौरान सर्दी-जुकाम की समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप प्याज का सेवन कर सकती हैं। इसमें एंटीबायोटिक गुण मौजूद होते हैं, जो सर्दी-जुकाम से राहत दिलाने का काम करेंगे (13)
  1. तनाव और मूड स्विंग्स के लिए – प्याज में प्रीबायोटिक्स होते हैं, जो तनाव को कम कर सकते हैं और नींद में सुधार कर सकते हैं। प्याज में फोलेट भी होता है, जो शरीर में अधिक होमोसिस्टीन (एमिनो एसिड) को बनने से रोक सकता है और गर्भावस्था में डिप्रेशन से लड़ने में सहायक हो सकता है। दरअसल, होमोसिस्टीन की अधिकता शरीर में फील-गुड हार्मोन को प्रभावित कर सकती है, जिससे मूड स्विंग, तनाव और अवसाद हो सकता है।

प्रेगनेंसी में भी प्याज के अधिक सेवन से कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। लेख के इस भाग में हम आपको इसी बारे में ही जानकारी दे रहे हैं।

प्रेगनेंसी में प्याज खाने के जोखिम

गर्भावस्था के दौरान अधिक मात्रा में प्याज खाने से निम्नलिखित परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है :

  • गर्भावस्था के दौरान ज्यादा प्याज खाने से एसिडिटी और सीने में जलन हो सकती है (14)
  • अगर किसी महिला को प्याज से एलर्जी है, तो उन्हें प्याज के अधिक सेवन से त्वचा संबंधी एलर्जी हो सकती है (15)
  • अगर अंकुरित प्याज का सेवन किया जाए, तो इससे गर्भवती को फूड पॉइजनिंग भी हो सकती है, क्योंकि इसमें साल्मोनेला (Salmonella) नामक बैक्टीरिया हो सकता है (16)

लेख के आगे भाग में जानिए कि गर्भावस्था में प्याज को आप कैसे आहार में शामिल कर सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान आहार में प्याज को शामिल करने के तरीके

नीचे जानिए गर्भावस्था में प्याज को अपने आहार में शामिल करने के तरीके-

  • आप सब्जी बनाते वक्त प्याज का उपयोग कर सकती हैं।
  • आप इसे सलाद में खा सकती हैं, लेकिन ध्यान रहे कि प्याज अच्छे से धोया हुआ हो और साफ रहे (16)
  • प्याज को दाल और अन्य सब्जी में तड़का लगाने के लिए भी उपयोग किया जा सकता है।
  • आप चावल को प्याज के साथ फ्राई करके खा सकती हैं। इससे खाने का स्वाद और बढ़ जाएगा।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या मैं गर्भावस्था के दौरान कच्चा प्याज खा सकती हूं?

हां, आप खा सकती हैं, लेकिन ध्यान रहे कि प्याज अच्छे से धोया हुआ और साफ हो। इसके अलावा, आप अंकुरित प्याज को कच्चा खाने से बचें, क्योंकि इसमें साल्मोनेला (Salmonella) नाम का बैक्टीरिया हो सकता है, जिससे आपको नुकसान हो सकता है (16)

किस प्रकार का प्याज अधिक फायदेमंद है?

वैसे तो प्याज कई प्रकार के होते हैं, लेकिन सामान्य तौर पर लाल और सफेद रंग के प्याज का ज्यादा उपयोग किया जाता है। ये दोनों ही आपके लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

क्या मैं गर्भावस्था के दौरान बालों पर प्याज का रस लगा सकती हूं?

हां, आप प्याज के रस का उपयोग कर सकती हैं, लेकिन ध्यान रहे कि उससे आपको कोई एलर्जी न हो। बेहतर होगा कि आप प्याज का रस लगाने से पहले एक बार पैच टेस्ट कर लें।

आशा करते हैं कि गर्भावस्था में प्याज खाने से संबंधी जरूरी सवालों के जवाब आपको इस लेख को पढ़ने के बाद मिल गए होंगे। प्याज एक सामान्य, लेकिन महत्वपूर्ण सब्जी है, जिसका उपयोग रोज के खाने में किया जाता है। ऐसे में गर्भवती भी इसके सेवन से अछूती नहीं रह सकती है। जरूरत है तो बस संतुलित मात्रा में इसका सेवन करने की। प्याज की सुरक्षित मात्रा के बारे में पहले ही इस आर्टिकल में जानकारी दी जा चुकी है। ऐसे में इस लेख को अन्य लोगों के साथ साझा कर गर्भावस्था में प्याज खाने को लेकर जागरूकता बढ़ाएं।

References

MomJunction's articles are written after analyzing the research works of expert authors and institutions. Our references consist of resources established by authorities in their respective fields. You can learn more about the authenticity of the information we present in our editorial policy.

1. Major Maternal Dietary Patterns During Early Pregnancy And Their Association With Neonatal Anthropometric Measurement By Ncbi
2. Medicinal Plants Effective On Pregnancy, Infections During Pregnancy, And Fetal Infections By Jpsr
3. Onion By Naturalproductsinfo
4. Managing Gestational Diabetes By Squarespace
5. Basic Report: 11282, Onions, Raw By Usda
6. Onions By Udc
7. Vitamins By Medlineplus
8. Common Symptoms During Pregnancy By Medlineplus
9. Constipation Management By Nsw
10. Pregnancy And Nutrition By Medlineplus
11. Folic Acid And Birth Defect Prevention By Medlineplus
12. Gestational Diabetes By Medlineplus
13. Onions–a Global Benefit To Health By Ncbi
14. The Effect Of Raw Onions On Acid Reflux And Reflux Symptoms By Ncbi
15. Chronic Urticaria By Ncbi
16. Food Safety During Pregnancy By Foodauthority

Was this article helpful?
Like buttonDislike button
The following two tabs change content below.