प्रेगनेंसी में संतरा व संतरा जूस के फायदे | Pregnancy Me Santra (Orange) Khane Ke Fayde

Image: Shutterstock

IN THIS ARTICLE

गर्भावस्था के दौरान महिला को कई तरह के खाद्य पदार्थों के सेवन की सलाह दी जाती है, इन्हीं में फलों का सेवन भी शामिल है। अब कौन-सा फल खाना चाहिए और कौन-सा नहीं, इसको लेकर कई गर्भवती महिलाओं में संशय रहता है। फिलहाल, मॉमजंक्शन के इस आर्टिकल में हम संतरे की बात कर रहे हैं। यहां हम जानने का प्रयास करेंगे कि गर्भावस्था के दौरान संतरे का सेवन लाभदायक है या नहीं। साथ ही प्रेगनेंसी में ऑरेंज खाने के जोखिम कारकों के बारे में वैज्ञानिक प्रमाण के साथ जानकारी देने की कोशिश करेंगे।

चलिए, सबसे पहले यह जान लेते हैं कि क्या गर्भावस्था में संतरा खाना सुरक्षित है या नहीं?

क्या गर्भवस्था में संतरा खाना सुरक्षित है? | Pregnancy Me Santra Khana Chahiye

हां, गर्भावस्था में संतरा खाना सुरक्षित है (1)। संतरे में फोलेट मौजूद होता है, जो गर्भवती महिला और भ्रूण दोनों के लिए जरूरी होता है। यह भ्रूण के स्वस्थ विकास में मददगार साबित होता है, ऐसे में पर्याप्त मात्रा में फोलेट के लिए संतरे के जूस का सेवन भी किया जा सकता है (2)। इतना ही संतरे में अन्य पौष्टिक तत्व जैसे – कैल्शियम, आयरन, विटामिन सी, विटामिन-बी6 भी मौजूद होते हैं, जो गर्भावस्था में और भी लाभकारी साबित हो सकते हैं। ध्यान रहे कि इनका सेवन सीमित मात्रा में किया जाए।

आइए, अब संतरे में मौजूद पोषक तत्वों के बारे में जान लेते हैं।

संतरे के पोषक तत्व

संतरे में पाए जाने वाले पोषक तत्वों को नीचे तालिका के माध्यम से दर्शाया जा रहा है (3) :

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी85.97g
एनर्जी49 kcal
प्रोटीन0.91 g
कुल लिपिड (वसा)0.15 g
कार्बोहाइड्रेट12.54 g
फाइबर, कुल डाइटरी2.2 g
शुगर, कुल8.50 g
मिनरल
कैल्शियम43 mg
आयरन0.13 mg
मैग्नीशियम11 mg
फास्फोरस23 mg
पोटैशियम166 mg
सोडियम1mg
जिंक0.08mg
विटामिन 
विटामिन सी, कुल एस्कॉर्बिक एसिड59.1 mg
थायमिन0.068 mg
राइबोफ्लेविन0.051 mg
नियासिन0.425 mg
विटामिन बी-60.079 mg
फोलेट, डीएफई34μg
विटामिन बी-120.00μg
विटामिन ए, आरएइ12μg
विटामिन ए, आईयू247 IU
विटामिन ई (अल्फा-टोकोफेरॉल)0.15 mg
विटामिन डी (डी2+डी3)0.0 μg
विटामिन डी0 IU
विटामिन के, (फिलोक्यूनोन-phylloquinone)0.0μg
लिपिड्स
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड0.017g
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड0.030 g
फैटी एसिड, टोटल पॉलीअनसैचुरेटेड0.031g
फैटी एसिड, टोटल ट्रांस 0.000g
कोलेस्ट्रॉल0 mg

लेख के इस भाग में आपको प्रेगनेंसी में ऑरेंज जूस के फायदे के बारे में बताया जा रहा है।

प्रेगनेंसी में ऑरेंज और ऑरेंज जूस के 8 फायदे | Pregnancy Me Orange Juice Ke Fayde

  • फोलिक एसिड के लिए : गर्भवती महिला के लिए फोलिक एसिड जरूरी होता है, क्योंकि फोलिक एसिड मां के स्वास्थ्य और भ्रूण के विकास में सहायक भूमिका निभाता है। इससे शिशु को न्यूरल ट्यूब जैसे जन्म दोष (शिशु के मस्तिष्क और रीढ़ से जुड़े दोष) से बचाया जा सकता है। ऐसे में अगर पर्याप्त मात्रा में फोलिक एसिड चाहिए, तो ऑरेंज जूस का सेवन लाभकारी हो सकता है। रेंज जूस को फोलिक एसिड का अच्छा स्रोत माना जाता है। ऐसे में गर्भवती महिला के लिए संतरे का जूस अच्छा विकल्प हो सकता है (2), (4)
  • कैल्शियम की पूर्ति के लिए : गर्भावस्था के दौरान कैल्शियम गर्भवती के लिए जरूरी है। इससे गर्भवती महिला और उसके होने वाले शिशु का कई तरह के बीमारियों से बचाव हो सकता है। साथ ही कैल्शियम से हड्डियों की भी समस्या का जोखिम कम हो सकता है (5)। ऐसे में गर्भावस्था में कैल्शियम की पूर्ति के लिए ऑरेंज जूस का सेवन किया जा सकता है, क्योंकि इसमें कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा मौजूद होती है (6)
  • एनीमिया को ठीक करने में : एनीमिया एक मेडिकल कंडीशन है, जिसमें आपका खून शरीर में ऑक्सीजन की पर्याप्त मात्रा नहीं पहुंचा पाता है (7)। एक शोध के अनुसार, अगर गर्भवती महिला आयरन के साथ-साथ विटामिन।सी का भी सेवन करें, तो एनीमिया का जोखिम काफी हद तक कम हो सकता है (8), (9)। ऐसे में गर्भवती महिला अपनी डाइट में संतरे के जूस को शामिल कर सकती हैं, क्योंकि इसमें पर्याप्त मात्रा में विटामिन-सी मौजूद होता है, जो लाभकारी साबित हो सकता है (6)
  • आयरन की पूर्ति के लिए : आयरन की जरूरत को पूरा करने के लिए भी ऑरेंज जूस के फायदे देखे जा सकते हैं। गर्भावस्था के दौरान आयरन की आवश्यकता बढ़ जाती है, क्योंकि भ्रूण को सही विकास के लिए आयरन की जरूरत होती है, जो उसे मां से प्राप्त होती है (10)। इसलिए, गर्भवती महिला पर्याप्त आयरन पाने के लिए ऑरेंज जूस का सेवन कर सकती है, क्योंकि संतरे में आयरन मौजूद होता है (6)
  • विटामिन सी की पूर्ति के लिए : संतरे के जूस में पर्याप्त विटामिन सी की मात्रा पाई जाती है (6)। एक अन्य वैज्ञानिक अध्ययन के अनुसार, विटामिन-सी की अधिक मात्रा गर्भवती महिलाओं के लिए आवश्यक होती है (11)। इसके सेवन से गर्भवती महिला और भ्रूण दोनों में ही बीमारियों का जोखिम कम हो सकता है और वो सेहतमंद हो सकते हैं (9)
  • जिंक की पूर्ति के लिए : ऑरेंज जूस में जिंक की भी मात्र पाई जाती है (6)। गर्भावस्था के दौरान जिंक भी गर्भवती महिला और उसके होने वाले शिशु को स्वस्थ रहने में अहम भूमिका निभाता है (12)
  • इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के लिए : गर्भावस्था के दौरान संतरे का सेवन आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ा सकता है, क्योंकि संतरे में विटामिन सी मौजूद होता है, जो इम्यून पावर बढ़ाने के लिए आवश्यक माना जाता है (13), (14)
  • एनर्जी के लिए : गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिला को उसके भ्रूण, प्लेसेंटा और टिश्यू के लिए पर्याप्त एनर्जी की जरूरत होती है। अगर पर्याप्त ऊर्जा प्राप्त न हो, तो इससे गर्भवती और उसके होने वाले शिशु को स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं (15)। ऐसे में पर्याप्त ऊर्जा की पूर्ति के लिए ऑरेंज जूस का सेवन किया जा सकता है, क्योंकि इसमें कई तरह के पौष्टिक तत्व मौजूद होते हैं, जो गर्भवती और उनके होने वाले शिशु के लिए फायदेमंद हो सकते हैं (6)

गर्भावस्था के दौरान संतरे के जूस के फायदे जानने के बाद, अब लेख के आगे के भाग में हम आपको एक दिन में गर्भवती महिला को कितने संतरे का सेवन करना चाहिए, उसकी जानकारी देंगे।

गर्भवस्था के दौरान एक दिन में कितने संतरे खाना उचित है?

गर्भास्वस्था के दौरान आप दो संतरे का सेवन कर सकती हैं । यह गर्भावस्था के दौरान होने वाली जेस्टेशनल डायबिटीज (Gestational diabetes) के जोखिम को कम करने में भी मदद कर सकता है (16)

आइए, अब जानते हैं कि एक दिन में कितने गिलास संतरे का जूस पीना चाहिए।

प्रेगनेंसी में एक दिन में कितने गिलास संतरे का जूस पीना चाहिए?

प्रेगनेंसी के दौरान एक दिन में 3/4 कप यानी लगभग 180 मिलीलीटर संतरे का जूस पी सकते हैं (16)

नोट– इस बारे में आप एक बार डॉक्टर से भी राय ले सकती हैं, क्योंकि हर किसी की गर्भावस्था एक जैसी नहीं होती है। इसी कारण से सभी की खाने की मात्रा की जरूरत अलग होती हैं।

आइए, अब जानते हैं कि प्रेगनेंसी में संतरा और ऑरेंज जूस का सेवन कब करना चाहिए।

प्रेगनेंसी में संतरा और संतरे के जूस का सेवन कब करना चाहिए?

जैसा कि हमने आपको बताया है कि गर्भावस्था के दौरान फोलेट आवश्यक होता है। फोलेट युक्त खाद्य पदार्थों का सेवन गर्भवती महिला गर्भावस्था के शुरुआत से ही कर सकती है। इस स्थिति में गर्भवती महिला संतरा या संतरे के जूस, जो फोलेट युक्त खाद्य पदार्थों में से एक है, उसका सेवन गर्भावस्था के शुरुआत से ही कर सकती है (17)

नोट : हर महिला का शरीर और उनकी गर्भावस्था एक समान नहीं होती है, ऐसे में इस बारे में आप एक बार अपने डॉक्टर की राय जरूर लें।

आइए, अब लेख के अगले भाग में जानते हैं कि प्रेगनेंसी में संतरा खाने से क्या नुकसान हो सकते हैं।

क्या प्रेगनेंसी में संतरा खाने के कुछ नुकसान हैं?| Pregnancy Me Orange Khane Ke Nuksan

जैसा कि आपको अभी ऊपर जानकारी दी गई कि गर्भावस्था के दौरान संतरे खाने के कई लाभ हो सकते हैं, लेकिन कुछ स्थितियों में इसके सेवन में सावधानी बरतनी भी जरूरी है। लेख के इस भाग में हम इसके बारे में आपको जानकारी दे रहे हैं।

  • संतरे में विटामिन-ए की मात्रा पाई जाती है और गर्भावस्था के दौरान विटामिन-ए का सेवन अधिक मात्रा में करने से बर्थ डिफॉर्मिटी (birth deformities) के जोखिम को बढ़ा सकता है। यह बच्चों में होने वाला एक प्रकार का जन्म दोष होता है (3) (9)
  • संतरे में विटामिन-ई की मात्रा भी पाई जाती है, जिसका गर्भावस्था के दौरान अधिक सेवन करने से जन्म लेने वाले बच्चे के वजन पर असर पड़ सकता है (3) (18)
  • संतरे का ज्यादा सेवन दांतों में सेंसिटिविटी (संवेदनशीलता) ला सकता है।
  • संतरे में पोटैशियम की अधिक मात्रा पाई जाती है और इसका अधिक सेवन खून में पोटैशियम की मात्रा बढ़ा सकता है] जिससे हाइपरकलेमिया (hyperkalemia किडनी रोगों का जोखिम) का खतरा बढ़ सकता है (3), (19)

प्रेगनेंसी में संतरे के नुकसान के बाद गर्भावस्था में संतरे के सेवन से जुड़ी कुछ खास बातों को भी ध्यान में रखना जरूरी है, जिसके बारे में हम आपको नीचे बता रहे हैं।

गर्भवस्था में संतरा खाते वक्त रखें इन बातों का ध्यान

  • उन संतरों का चुनाव करें, जो अन्य संतरों से वजन में भारी हों। आप अन्य संतरों को एक-एक करके उठाकर वजन का अंदाजा लगा सकते हैं।
  • हरे रंग के संतरे कच्चे होते हैं, इनका सेवन करने से बचें।
  • संतरे को हल्का दबाकर देख लें कि कहीं वो जरूरत से ज्यादा नर्म या गले हुए तो नहीं हैं।
  • आप इसे दिन में ही खाएं और पहले एक फाड़ी चख कर देख लें कि कहीं वो खट्टा तो नहीं है। अगर खट्टा है, तो उसे न खाएं।

लेख के इस भाग में आपको गर्भावस्था के दौरान आहार में संतरा को शामिल करने के बारे में बताया जा रहा है।

गर्भावस्था आहार में संतरा को शामिल करने के आसान तरीके

आहार में संतरे को कुछ इस प्रकार इस्तेमाल कर सकते हैं :

  • आप फलों के सलाद में संतरे को मिक्स कर सकते हैं।
  • आप चाहे तो नाश्ते या खाना खाने के बाद संतरा खा सकते हैं।
  • संतरे पर ब्राउन शुगर छिड़क कर फिर उसे माइक्रोवेव में भूनने के बाद खा सकते हैं।
  • आप संतरे के जूस का सेवन कर सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या संतरे के छिलके का उपयोग प्रेगनेंसी में करना सही है?

हां, लेकिन इसे सीधा नहीं खाया जा सकता। ऐसा माना जाता है कि संतरे के छिलके में उसकी फाड़ियों के मुकाबले ज्यादा एंटीऑक्सीडेंट और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं (20)। आप छिलके को पीसकर उसका पाउडर बना सकते हैं और उसे सलाद के ऊपर छिड़क कर खा सकते हैं।

क्या होगा अगर प्रेगनेंसी में मैने संतरे के बीज खालिए तो?

वैसे तो संतरे के बीज के नुकसान न के बराबर हैं, लेकिन ध्यान रहे कि आप संतरे को खाते वक्त उसके बीज निकाल दें, क्योंकि ये आपके गले में अटक सकते हैं। ऐसा होने से आपको सांस लेने में तकलीफ या अन्य परेशानी हो सकती है।

गर्भावस्था में फलों का सेवन आवश्यक होता है, क्योंकि सप्लीमेंट्स के मुकाबले फल अधिक पौष्टिक तत्वों से भरपूर होते हैं और संतरा भी उन्हीं फलों में से एक है। इसका संतुलित मात्रा में अगर सेवन किया जाए, तो यह गुणों का खजाना हो सकता है। हम आशा करते हैं इस लेख में आपको गर्भावस्था के दौरान संतरे खाने से जुड़े सवालों के जवाब मिल चुके होंगे। अगर अभी भी आपके मन में कोई उलझन है, तो आप उसे कमेंट बॉक्स के जरिए हम तक पहुंचा सकते हैं। हम तथ्यों सहित जवाब देने का प्रयास करेंगे। साथ ही आप अपने गर्भावस्था के अनुभव भी हमारे साथ शेयर कर सकते हैं।

संदर्भ (References):

1. Maternal Diet and Nutrient Requirements in Pregnancy and Breastfeeding By NCBI
2. Nutrition and Diet for a Healthy Pregnancy By Mississipi State Department of Health
3. United States Department of Agriculture Agricultural Research Service By National Nutrient Database for Standard Reference Legacy Release
4. Neural Tube Defects By Medline
5. Calcium Supplementation During Pregnancy and Lactation By National Guidelines for Calcium Supplementation During Pregnancy and Lactation
6. United States Department of Agriculture Agricultural Research Service By National Nutrient Database for Standard Reference Legacy Release
7. Anemia By Medline
8. Effect of Ascorbic Acid Supplementation in Pregnancy on Anemia By US National library of Medicine
9. Regular vitamin C supplementation during pregnancy By NCBI
10. Pregnancy and diet By Better Health
11. vitamin C By Medline
12. Effect of Zinc Supplementation on Pregnancy and Infant Outcomes By NCBI
13. Orange By HCNP Hawai
14. Vitamin C and Immune Function By NCBI
15. Energy Requirements, Energy Intake, and Associated Weight Gain during Pregnancy By NCBI
16. Diabetes diet – gestational By Medline
17. Health Tips for Pregnant Women By National Institute of Diabetes and Digestive and Kidney Diseases
18. Pregnancy outcome following high doses of Vitamin E supplementation By NCBI
19. Orange juice-induced hyperkalemia in schizophrenia By NCBI
20. Biological Activities and Safety of Citrus By NCBI
Was this information helpful?

Comments are moderated by MomJunction editorial team to remove any personal, abusive, promotional, provocative or irrelevant observations. We may also remove the hyperlinks within comments.