टूथपेस्ट से घर में प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे करें? | Toothpaste Pregnancy Test In Hindi

Image: Shutterstock

IN THIS ARTICLE

आज का जमाना डीआईवाई (Do it yourself) और इंस्टेंट नुस्खों का है। हम चाहते हैं कि हमें हर चीज जितना जल्दी हो सके, उतनी जल्दी मिल जाए। फिर चाहे बात किसी मेडिकल रिपोर्ट की ही क्यों न हो। ऐसे ही कुछ डीआईवाई प्रेगनेंसी टेस्ट भी इन दिनों प्रचलन में है, जिनकी मदद से घर बैठे आसानी से यह पता लगाया जा सकता है कि आप गर्भवती हैं या नहीं। ये टेस्ट कई चीजों से किए जा सकते हैं, जैसे – नमक, बेकिंग सोडा व ब्लीच आदि। ऐसा ही एक प्रेगनेंसी टेस्ट टूथपेस्ट की मदद से भी किया जा सकता है। जी हां, हम उसी टूथपेस्ट की बात कर रहे हैं जिसका उपयोग आप हर सुबह ब्रश करने के लिए करते हैं। अब ये टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट होता क्या है और यह कितना भरोसेमंद है? इस बारे में विस्तार से जानिए मॉमजंक्शन के इस लेख में।

लेख के पहले भाग में जानिए टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट क्या होता है।

टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट क्या है? | Toothpaste Pregnancy Test In Hindi

यह आसान-सा टेस्ट है, जो यह पता लगाने के लिए किया जा सकता है कि आप गर्भवती हैं या नहीं। माना जाता है कि अन्य प्रेगनेंसी टेस्ट की तरह यह भी यूरिन में एचसीजी (ह्यूमन कोरिओनिक गोनाडोट्रोपिन) हॉर्मोन की मौजूदगी का पता लगा सकता है। इस टेस्ट के अनुसार, अगर टूथपेस्ट यूरिन से रियेक्ट करता है, तो इसका मतलब है कि आप प्रेगनेंट हैं। यहां हम यह बता दें कि इस टेस्ट के बारे में कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण उपलब्ध नहीं है, जिसके आधार पर यह कहा जा सके कि इसके परिणाम पूरी तरह सटीक होते हैं। इस टेस्ट को करने के बाद भी हम डॉक्टर से परामर्श करके एक प्रेगनेंसी टेस्ट करने की सलाह देते हैं, ताकि गर्भावस्था की पुष्टि की जा सके।

आगे जानिए कि यह प्रेगनेंसी टेस्ट कब किया जाना चाहिए।

गर्भावस्था की पुष्टि के लिए टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सही समय क्या है?

समय के साथ-साथ यूरिन में एचसीजी हॉर्मोन की मात्रा बढ़ती जाती है। ऐसे में पीरियड्स न आने या पीरियड मिस होने के पहले दिन आप गर्भावस्था की जांच कर सकती हैं। वहीं यह भी ध्यान रखें कि यह टेस्ट सुबह के पहली यूरिन से किया जाए। इस समय किए जाने टेस्ट के परिणाम को अन्य की तुलना में सटीक माना जाता है (1), लेकिन जरूरी नहीं कि यह परिणाम पूरी तरह से सही हो।

इस लेख के अगले भाग में हम बताएंगे कि इस टेस्ट को करने के लिए किन-किन चीजों की जरूरत पड़ती है।

टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए किन चीजों की जरूरत होगी?

टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए आपको नीचे बताई गई चीजों की जरूरत पड़ेगी :

  • एक टूथपेस्ट
  • दो कंटेनर या छोटे प्लास्टिक बाउल
  • सुबह के यूरिन का सैंपल
  • एक ड्रॉपर

आगे जानिए कि इसे किस तरह किया जा सकता है।

टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट करने का तरीका

घर में टूथपेस्ट के साथ प्रेगनेंसी टेस्ट आप नीचे बताए गए तरीके से कर सकते हैं :

  • सबसे पहले एक बाउल में थोड़ा-सा टूथपेस्ट निकाल लें।
  • वहीं, दूसरे बाउल में यूरिन का सैंपल लें।
  • अब एक ड्रॉपर की मदद से टूथपेस्ट में यूरिन की कुछ बूंदें मिलाएं।
  • इसके बाद रिएक्शन के लिए कुछ देर इंतजार करें।
  • अगर टूथपेस्ट का रंग बदलता है या उसमें झाग आता है, तो समझिए कि आप गर्भवती हैं।

इसे करने की प्रक्रिया जानने के बाद अब पता करते हैं कि यह किस तरह काम करता है।

टूथपेस्ट के साथ प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे काम करता है?

मान्यताओं के अनुसार, जब टूथपेस्ट में यूरिन को मिलाया जाता है, तो इससे केमिकल रिएक्शन होता है। इससे या तो टूथपेस्ट से झाग निकलता है या उसका रंग बदलता है। एचसीजी हॉर्मोन एक खास तरह का हॉर्मोन होता है, जो महिला के शरीर में तब बनता है, जब वह गर्भवती होती है। यह सुबह के यूरिन में सबसे ज्यादा पाया जाता है, जिस कारण प्रेगनेंसी टेस्ट के लिए सुबह की पहली यूरिन का उपयोग करने की सलाह दी जाती है (2)। बता दें कि टूथपेस्ट में कैल्शियम कार्बोनेट पाया जाता है (3), जबकि एचसीजी में एमिनो एसिड होता है (4)। इन दोनों को मिलाने से यह केमिकल रिएक्शन होता है, जो इस टेस्ट की कार्यप्रणाली के पीछे शामिल है।

इस लेख के अगले भाग में हम आपको बताएंगे कि इसके परिणाम को किस तरह समझा जा सकता है।

टूथपेस्ट से प्रेगनेंसी टेस्ट के रिजल्ट को कैसे समझें?

  • पॉजिटिव टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्टमाना जाता है कि अगर आप गर्भवती हैं, तो टूथपेस्ट में यूरिन मिलाते ही उसमें रासायनिक रिएक्शन होगा। ऐसा करने से टूथपेस्ट का रंग बदल जाएगा या उसमें झाग बनने लगेगी।
  • नेगेटिव टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्टअगर आप गर्भवती नहीं है, तो यूरिन में एचसीजी हॉर्मोन मौजूद नहीं होगा। ऐसे में टूथपेस्ट में यूरिन मिलाने से कोई केमिकल रिएक्शन नहीं होगा। साथ ही न तो उसका रंग बदलेगा और न कोई झाग बनेगी।

आगे आप जानेंगे कि यह टेस्ट कितना सही होता है।

टूथपेस्ट से किया गया प्रेगनेंसी टेस्ट कितना सही होता है?

टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट के परिणामों को सटीक नहीं माना जाता है और न ही इसे गर्भावस्था की जांच का सटीक तरीका माना जाता है। इस टेस्ट से संबंधित कोई वैज्ञानिक प्रमाण भी उपलब्ध नहीं है, जिसके आधार पर इस टेस्ट के परिणामों पर विश्वास किया जा सके।

वहीं, ऐसा भी कोई शोध उपलब्ध नहीं है, जिससे यह कहा जा सके कि टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट से गर्भावस्था के हॉर्मोन की जांच की जा सकती है। साथ ही यह भी संभावना है कि इस टेस्ट में होने वाला केमिकल रिएक्शन सिर्फ टूथपेस्ट और यूरिन के कारण हो। ऐसा बिना एचसीजी हॉर्मोन के कारण भी हो सकता है।

यूरिन में यूरिक एसिड पाया जाता है (5), जबकि टूथपेस्ट में कैल्शियम कार्बोनेट पाया जाता है (3)। कैल्शियम कार्बोनेट में एसिड मिलाने से कई बार ऐसा केमिकल रिएक्शन होता है, जिससे झाग निकल सकती है। इस कारण यह कहा जा सकता है कि जरूरी नहीं कि केमिकल रिएक्शन एचसीजी हॉर्मोन होने का ही संकेत हो।

इस लेख के आखिरी भाग में आप जानेंगे कि इस विषय में डॉक्टर से संपर्क कब करना चाहिए।

चिकित्सक से कब संपर्क करें?

अगर आपके पीरियड्स समय से नहीं आए हों और आपको गर्भावस्था के लक्षण महसूस हो रहे हों, तो आप अपने डॉक्टर से संपर्क कर सकती हैं। गर्भावस्था के शुरुआती लक्षण निम्नलिखित हो सकते हैं (6) :

  • योनि से हल्का रक्तस्त्राव
  • थकान
  • उल्टी/मतली का एहसास
  • सिरदर्द
  • मूड स्विंग
  • बार बार पेशाब आना
  • संवेदनशील स्तन या निप्पल
  • कुछ खाने की तीव्र इच्छा होना

अंत में यह कहा जा सकता है कि टूथपेस्ट प्रेगनेंसी टेस्ट एक मजेदार केमिकल एक्टिविटी तो हो सकती है, लेकिन गर्भावस्था की सटीक पुष्टि के लिए यह अच्छा उपाय नहीं है। गर्भावस्था एक नाजुक दौर होता है। ऐसे में अपनी गर्भावस्था की जांच करने के लिए डॉक्टर से परामर्श करके एक मेडिकल जांच करवाकर सही उपचार लेना जरूरी है। इस दौरान सही से ध्यान न रखने से मां और होने वाले बच्चे की सेहत पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है। हम उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपके लिए लाभदायक रहा होगा। पसंद आने पर इसे अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करें।

संदर्भ (References) :