क्या प्रेग्नेंसी में कटहल खा सकते हैं? | Pregnancy Me Kathal Khana Chahiye Ya Nahi

Pregnancy Me Kathal Khana Chahiye Ya Nahi

Image: Shutterstock

IN THIS ARTICLE

गर्भावस्था के दौरान खान-पान का ध्यान रखना जरूरी होता है। इसका असर गर्भवती के साथ-साथ होने वाले शिशु पर भी होता है। इसलिए, गर्भवती महिला के मन में कई सवाल होते हैं कि उसे क्या खाना चाहिए और क्या नहीं। कुछ इसी तरह की आशंका कटहल को लेकर भी होती है कि उसे खाना चाहिए या नहीं। मॉमजंक्शन के इस लेख में हम बताएंगे कि गर्भवती महिला के लिए कटहल खाना कितना सुरक्षित है। साथ ही किस अवस्था में यह नुकसानदायक साबित हो सकता है।

क्या गर्भावस्था के दौरान कटहल खाना सुरक्षित है? | Pregnancy Me Kathal Khana Chahiye Ya Nahi

जी हां, गर्भावस्था के दौरान कटहल खाना सुरक्षित है। इसमें विटामिन-बी6 और पोटैशियम जैसे दूसरे जरूरी पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं, जो एक गर्भवती महिला के लिए जरूरी हैं (1)। साथ ही इसे एंटीऑक्सीडेंट का प्रमुख स्रोत भी माना गया है। इसलिए, कटहल को गर्भावस्था के दौरान खाया जा सकता है, लेकिन इसे कम मात्रा में ही खाना चाहिए। जरूरत से ज्यादा खाने पर यह शरीर में गर्मी पैदा कर सकता है।

नोट: फिर भी गर्भवस्था में कटहल का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से बात जरूर कर लें।

लेख के अगले भाग में आपको कटहल में मौजूद पौष्टिक तत्वों के बारे में जानकारी मिलेगी।

कटहल के पौष्टिक तत्व

गर्भवती महिला के लिए अपनी डायट में कटहल को शामिल करना अधिक लाभदायक है, क्योंकि यह पौष्टिक तत्वों से समृद्ध होता है। कटहल में कौन-कौन से पोषक तत्व होते हैं, उसकी जानकारी हम नीचे दे रहे हैं (2) :

पोषक तत्वमात्रा प्रति 100 ग्राम
पानी73.46 g
ऊर्जा95 kcal
प्रोटीन1.72 g
टोटल लिपिड (फैट)0.64 g
कार्बोहाइड्रेट23.25 g
कुल डायटरी फाइबर1.5 g
शुगर19.08 g
मिनरल्स
कैल्शियम24 mg
आयरन0.23 mg
मैग्नीशियम29 mg
फास्फोरस21 mg
पोटैशियम448 mg
सोडियम2 mg
जिंक0.13 mg
विटामिन
विटामिन-सी13.7 mg
थाइमिन0.105 mg
राइबोफ्लेविन0.055 mg
नियासिन0.920 mg
विटामिन-बी60.329 mg
फोलेट24 μg
विटामिन-बी120.00 μg
विटामिन-ए ,RAE5 μg
विटामिन-ए ,IU110 IU
विटामिन-ई ,(अल्फा-टोकोफेरोल )0.34 mg
लिपिड
फैटी एसिड, कुल सैचुरेटेड0.195 g
फैटी एसिड, कुल मोनोसैचुरेटेड0.155 g
फैटी एसिड, कुल पोलीअनसैचुरेटेड0.094 g
फैटी एसिड, कुल ट्रांस0.000 g
कोलेस्ट्रॉल0 mg

आगे हम बता रहे हैं कि कटहल खाने से क्या-क्या फायदे हो सकते हैं।

गर्भावस्था के दौरान कटहल खाने के क्या फायदे हैं? | Kathal Ke Fayde In Pregnancy

अगर आप गर्भावस्था के दौरान डॉक्टर की सलाह पर सीमित मात्रा में कटहल खाती हैं, तो आपको निम्न प्रकार से फायदा हो सकता है :

  1. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए : गर्भावस्था के समय स्वास्थ्य खराब होने की आशंका रहती है। ऐसे में अगर आप बीमार हो जाएं, तो इसका असर गर्भ में पल रहे शिशु पर भी पड़ सकता है। वहीं, कटहल को विटामिन-सी का अच्छा स्रोत माना गया है, जो एंटीऑक्सीडेंट की तरह काम करते हुए रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद कर सकता है (3)। इसलिए, गर्भावस्था के दौरान कटहल आपको रोग मुक्त रखने में सहायता कर सकता है।
  1. रक्तचाप (ब्लड प्रेशर) को नियंत्रित करने के लिए : गर्भावस्था के तीसरे व चौथे महीने के बाद रक्तचाप में उतार-चढ़ाव हो सकता है। ऐसे में कटहल में मौजूद पोटैशियम की मात्रा रक्तचाप को नियंत्रित रखने में मदद कर सकती है (4)
  1. पाचन के लिए कटहल : गर्भावस्था के दौरान पाचन क्रिया का प्रभावित होना स्वभाविक है। ऐसे में कटहल के छिलके से बने पाउडर का सेवन कर पाचन शक्ति को बेहतर किया जा सकता है (5), लेकिन गर्भावस्था के दौरान कटहल के अधिक सेवन से आपके पाचन तंत्र को नुकसान भी हो सकता है (4)। इसलिए, इसका उपयोग करते समय डॉक्टर की सलाह जरूर लें।
  1. शरीर की ऊर्जा बढ़ाने के लिए : गर्भावस्था के दौरान होने वाली कमजोरी को दूर करने के लिए कटहल का उपयोग किया जा सकता है। कटहल में पाए जाने वाले प्रोटीन, विटामिन और कैल्शियम आपके शरीर की ऊर्जा को बढ़ाने में सहायता कर सकते हैं (4)
  1. एनीमिया को दूर करने के लिए : गर्भावस्था के दौरान रक्त की कमी को दूर करने के लिए भी कटहल का उपयोग किया जा सकता है। कटहल में आयरन पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, जो रक्त को बढ़ाने में सहायता कर सकता है (4)
  1. हड्डियों की मजबूती के लिए : कटहल में मैग्नीशियम भी अधिक मात्रा में पाया जाता है। मैग्नीशियम की मदद से शरीर को कैल्शियम अवशोषित करने में मदद मिलती है। इससे आपकी हड्डियां मजबूत बनती हैं (4)

अभी हमने गर्भावस्था के दौरान कटहल खाने के फायदे पढ़े। आगे हम कटहल से होने वाले नुकसान के बारे में बता रहे हैं।

गर्भावस्था के दौरान कटहल के संभावित दुष्प्रभाव

कोई भी चीज तभी तक फायदा करती है, जब तक कि उसे सीमित मात्रा में खाया जाए। जरूरत से ज्यादा खाने पर फायदे की जगह नुकसान हो सकता है। गर्भावस्था के मामले में तो महिला को इस संबंध में और जागरूक रहना चाहिए। यहां हम बता रहे हैं कि कटहल को अधिक खाने या फिर कुछ खास परिस्थितियों में खाने से क्या-क्या दुष्प्रभाव हो सकते हैं।

  1. शुगर बढ़ने का कारण: गर्भावस्था के समय कटहल का सेवन करना आपके रक्त के शुगर स्तर को बढ़ाने का कारण बन सकता है, क्योंकि कटहल में शुगर को बढ़ाने वाले तत्व अधिक मात्रा में पाए जाते हैं (6) (7)
  1. एलर्जी का कारण : अगर आपने पहले कटहल का सेवन नहीं किया है, तो गर्भावस्था के दौरान इसके सेवन से आपको एलर्जी भी हो सकती है (8)
  1. पेट की समस्या: कटहल का अधिक मात्रा में सेवन करना आपके पेट के लिए भी हानिकारक हो सकता है। कटहल में फाइबर पर्याप्त मात्रा में होता है, जिस कारण इसका सेवन अधिक मात्रा में करने से गैस आदि की समस्या हो सकती है।

आगे जानें कि बेहतर कटहल का चुनाव कैसे करें और उसे लंबे समय तक कैसे स्टोर किया जा सकता है।

कटहल का चयन और भंडारण कैसे करें?

  1. अगर आपको कच्चा कटहल चाहिए, तो हमेशा हरे और कठोर छिलके वाले कटहल का चयन करें। साथ ही ध्यान दें कि ताजे कटहल के कांटे कठोर होने चाहिए।
  1. अगर आप पका हुए कटहल ले रहे हैं, तो ध्यान दें कि उसका रंग पीला होना चाहिए। साथ ही कटहल वजनदार और कोमल छिलके वाला होना चाहिए।
  1. हल्के और संक्रमित कटहल को न खरीदें। ऐसे कटहल से परहेज करें।
  1. वहीं, इसे लंबे समय तक सुरक्षित रखने के लिए फ्रिज में स्टोर किया जा सकता है। बिना कटे कटहल को करीब एक हफ्ते तक फ्रिज में रखा जा सकता है।

गर्भावस्था में कटहल खाने की रेसिपी जानने के लिए पढ़ते रहें यह आर्टिकल।

गर्भावस्था के अनुकूल कटहल रेसिपी

कटहल को कई तरह से खाया जा सकता है। यहां हम गर्भावस्था के दौरान कटहल बनाने की विधि के बारे में बता रहे हैं।

1. कटहल की सब्जी | Kathal Ki Sabji In Pregnancy

Kathal Ki Sabji In Pregnancy

Image: Shutterstock

सामग्री :

  • 1/2 कच्चा कटहल
  • 1 प्याज
  • ¼ चम्मच हल्दी
  • नमक (स्वादानुसार)
  • 3 चम्मच कद्दूकस किया हुआ नारियल
  • 1 ½ धनिया बीज
  • 1 चम्मच जीरा बीज
  • 2 लहसुन लौंग
  • 2 लाल मिर्च
  • चुटकी भर काली मिर्च
  • तेल (आवश्यकतानुसार)
  • 1 चम्मच सरसों के बीज
  • 1 चम्मच उड़द दाल
  • करी पत्ता (आवश्यतानुसार)

बनाने का समय: 1 घंटे 5 मिनट

कितने लोगों के लिए: 2

कटहल की सब्जी बनाने की विधि:

  1. कटहल के बीजों को निकाल कर कटहल को छोटे-छोटे हिस्सों में काट लें।
  1. फिर इसे 10 से 15 मिनट तक पानी या दही में भिगोएं। इसके बाद पानी या दही को फेंक दें और कटहल को निचोड़ लें।
  1. पानी को गरम करें और उसमें नमक, हल्दी व कटहल के टुकड़ों को तब तक पकाएं, जब तक कि कटहल नरम न हो जाए।
  1. फिर नारियल, धनिया के बीज, लहसुन, जीरा के बीज, लाल मिर्च, काली मिर्च और पानी मिलाकर पेस्ट बना लें।
  1. तेल को तवे पर गरम कर लें, फिर उसमें सरसों के बीज, उड़द दाल, करी पत्ते और प्याज को डाल कर तब तक भूने, जब तक कि प्याज नरम न हो जाए।
  1. इसके बाद पेस्ट और कटहल को कड़ाई में डाल कर मध्यम आंच पर पकाएं और ऊपर से नमक छिड़कें।
  1. थोड़े-थोड़े समयांतराल पर सब्जी में कड़छी चलाते रहें।
  1. इसके बाद 15 मिनट में आपकी सब्जी बनकर तैयार हो जाएगी।

2. कटहल चिप्स

Jackpot chips

Image: Shutterstock

सामग्री :

  • एक या आधा कच्चा कटहल
  • ½ चम्मच हल्दी
  • 3 चम्मच पानी
  • नमक (स्वादानुसार)
  • कटहल को भुनने लायक तेल

बनाने का समय: 10 मिनट

कितने लोगों के लिए: 5

बनाने की विधि:

  1. हल्दी, नमक और पानी को एक बाउल में डालकर अच्छी तरह से मिला लें।
  1. फिर कटहल को लंबा-लंबा काटकर बाउल में डाल दें।
  1. फिर उसे एक साफ कपड़े पर बिखेर दें, ताकि उसकी नमी न खत्म हो जाए।
  1. इस बीच जरूरत के अनुसार तेल को कढ़ाई में डालकर गर्म करें।
  1. फिर कटहल को तेल में डालकर तब तक भूनें, जब तक कि वह सुनहरे रंग का न दिखने लगे।
  1. इसके बाद अतिरिक्त तेल को निकाल कर उसमें नमक और लाल मिर्च डाल दें।
  1. फिर कटहल को निकालकर छान लें और किसी ऐसे बर्तन में रखें जहां हवा न पहुंच पाए।
  1. इसे नाश्ते की तरह या मुख्य भोजन के साथ खा सकते हैं।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या कटहल खाने से गर्भपात का खतरा है?

कटहल शरीर में अधिक मात्रा में गर्मी उत्पन्न करता है। इसलिए, गर्भावस्था के पहले व दूसरे महीने में कटहल का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि इस दौरान गर्भपात होने की आशंका सबसे ज्यादा होती है (9)

नोट: अगर फिर भी आप कटहल खाना चाहते हैं, तो एक बार अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लें।

क्या गर्भावस्था के लिए कटहल के बीज अच्छे हैं?

गर्भावस्था के दौरान कटहल के बीज का सेवन किया जा सकता है, लेकिन इसे कम मात्रा में सेवन करना ही लाभदायक होगा। इस संबंध में अभी तक कम ही वैज्ञानिक अध्ययन हुए हैं, इसलिए इसका सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श जरूर कर लें। जरूर नहीं कि इसके सेवन से सभी को फायदा हो (10)

मां बनना और उस अनुभव को महसूस करना महिलाओं के लिए उत्साह का विषय होता हैं । प्रत्येक महिला गर्भावस्था के दौरान अपने आने वाले शिशु के लिए चिंतित होती है और उसके स्वास्थ व तंदुरुस्ती के लिए हर तरह की सलाह को निभाने की कोशिश करती है। इन्हीं सलाहों में से एक कटहल का सेवन भी है। अगर आप सही मात्रा में इसका उपयोग करती हैं, तो कटहल के फायदों का आनंद ले सकती हैं। साथ ही नुकसान से भी बच सकती हैं। हमारे इस लेख में दी गई जानकारी का सही उपयोग करें और अपने अनुभव हमारे साथ नीचे दिए कमेंट बॉक्स में शेयर करें।

संदर्भ (References) :

 

Was this information helpful?

FaceBook Pinterest Twitter Featured Image