check_iconFact Checked

प्रेगनेंसी में नींबू पानी पीने के फायदे | Nimbu Pani In Pregnancy

कई खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं, जिन्हें गर्भावस्था के दौरान पचाने में मुश्किल हो सकती है। ऐसे में तरल पदार्थ का सेवन बेहतर हो सकता है, क्योंकि तरल पदार्थ को पचाने में आसानी होती है। साथ ही गर्भवती महिला को आवश्यक पोषण देने में भी मददगार हो सकते हैं। ऐसा ही एक पेय पदार्थ नींबू पानी भी है, जिसके सेवन से गर्भवती और भ्रूण को कई तरह के लाभ हो सकते हैं। मॉमजंक्शन के इस लेख में हम गर्भावस्था में नींबू पानी पीने के फायदे के बारे में विस्तार से जानकारी देंगे।

In This Article

क्या गर्भावस्था के दौरान नींबू पानी पीना सुरक्षित है? | Pregnancy Me Nimbu Pani Pina Chahiye Ya Nahi

हां, गर्भावस्था के दौरान अपने आहार में नींबू के रस को शामिल करना सुरक्षित है। बोतल बंद नींबू के रस का उपयोग करने की जगह ताजा घर में बना नींबू पानी पीना बेहतर होगा। गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन करने से रक्तचाप नियंत्रित रहता है (1)। साथ ही ध्यान रहे कि नींबू के अधिक सेवन से शरीर जरूरत से ज्यादा डिटॉक्सीफाई हो सकता है, जो गर्भावस्था के दौरान असुरक्षित है। इसलिए, नींबू के रस को अपनी आहार सूची में शामिल करने से पहले डॉक्टर से एक बार सलाह जरूर लें।

लेख के अगले भाग में नींबू के पोषक तत्वों के बारे में जानकारी दी गई है।

नींबू के पोषक तत्व

नींबू में कई तरह के पोषक तत्व मौजूद होते हैं, जो शरीर में पहुंच कर विभिन्न प्रकार से लाभ पहुंचा सकते  हैं। इन पोषक तत्वों की मात्रा कितनी होती है, चार्ट में यही बताया गया है (2) :

पोषक तत्व मात्रा प्रति 100 ग्राम 
पानी 92.31 g
ऊर्जा 22 kcal
प्रोटीन 0.35 g
टोटल लिपिड (फैट) 0.24 g
कार्बोहाइड्रेट 6.90 g
फाइबर, टोटल डाइटरी 0.3 g
शुगर 2.52 g
मिनरल
कैल्शियम 6 mg
आयरन 0.08 mg
मैग्नीशियम 6 mg
फास्फोरस 8 mg
पोटैशियम 103 mg
सोडियम 1 mg
जिंक 0.05 mg
विटामिन
विटामिन सी 38.7 mg
थायमिन 0.024 mg
राइबोफ्लेविन 0.015 mg
नियासिन 0.091 mg
विटामिन बी-6 0.046 mg
फोलेट टोटल 20 µg
विटामिन बी-12 0.00µg
विटामिन ए,RAE 0mg
विटामिन ए ।U 6 ।U
विटामिन ई (अल्फा- टोकोफेरोल) 0.15 mg
विटामिन डी (D2+D3) 0.0 µg
विटामिन डी 0
विटामिन के 0.0
लिपिड
फैटी एसिड, टोटल सैचुरेटेड 0.040 g
फैटी एसिड, टोटल मोनोअनसैचुरेटेड 0.006 g
फैटी एसिड, टोटल पॉलीसैचुरेटेड 0.021 g
कोलेस्ट्रॉल 0 mg

गर्भावस्था के दौरान नींबू पानी पीने से किस-किस तरह के फायदे हो सकते हैं, इस बारे में हम आगे विस्तार से बता रहे हैं।

गर्भावस्था में नींबू पानी के फायदे | Pregnancy Me Nimbu Pani Pine Ke Fayde

  1. मॉर्निंग सिकनेस : गर्भावस्था की पहली तिमाही में होने वाले उल्टी और मतली की समस्या को मॉर्निंग सिकनेस कहा जाता है। इसे दूर करने में नींबू पानी का सेवन मददगार साबित हो सकता है (3)
  1. रक्तचाप के लिए : गर्भावस्था में रक्तचाप आम समस्या है। ऐसे में नींबू पानी का सेवन करने से इसे नियंत्रण में लाया जा सकता है। नींबू में मौजूद विटामिन्स रक्त वाहिकाओं को कोमल बनाकर मजबूत बना सकते हैं। साथ ही आंतरिक रक्तस्राव को रोकने का काम कर सकते हैं और उच्च रक्तचाप को कम करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं (1)
  1. पाचन क्रिया के लिए : गर्भावस्था के दौरान ज्यादातर महिलाओं में अपच की समस्या पाई गई है। इसे दूर करने के लिए नींबू पानी अच्छा विकल्प हो सकता है। नींबू पानी से पाचन क्रिया को दुरुस्त रखा जा सकता है (4)
    1. इम्यून सिस्टम के लिए : नींबू में विटामिन-सी अधिक मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर में मौजूद बैक्टीरिया और वायरस को दूर करने में सहायता कर सकता है। साथ ही इम्यून सिस्टम को भी मजबूत कर सकता है (5)।
  1. हड्डियों के लिए : एक शोध के अनुसार, कैल्शियम गर्भवती महिलाओं की हड्डियों को मजबूत करने के साथ-साथ भ्रूण की हड्डियों के विकास में भी सहायता पहुंचाने का काम कर सकता है। गर्भावस्था के आखिरी तीन महीनों में कैल्शियम की अधिक जरूरत होती है (6) ऐसे में नींबू पानी के सेवन से कैल्शियम की पूर्ति की जा सकती है (2)

चलिए, अब नींबू पानी बनाने के तरीके के बारे में जान लेते हैं।

नींबू पानी बनाने का सही तरीका

यहां हम नींबू पानी बनाने की आसान विधि बता रहे हैं, जिससे आप नींबू पानी को झटपट तैयार कर सकते हैं।

lemon water
share button
  • नींबू को दो भागों में काट लें।
  • फिर एक गिलास सादे पानी में कटे हुए नींबू को निचोड़ लें। अगर नींबू का आकार ज्यादा बड़ा है, तो आधे नींबू का ही इस्तेमाल करें।
  • इसे मीठा करने के लिए इसमें शहद भी डाल सकते हैं।
  • नींबू पानी बनाने के बाद इसका तुरंत सेवन करें।

चलिए जानते है कि प्रेगनेंसी में नींबू पानी लेते समय किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।

प्रेगनेंसी में नींबू पानी लेते वक्त रखें इन बातों का ध्यान

प्रेगनेंसी में नींबू पानी लेते वक्त कुछ बातों को ध्यान में रखना जरूरी है, जो इस प्रकार हैं :

  • गर्भावस्था में नींबू की कम मात्रा से शुरुआत करें, ताकि पता चल सके कि आपको इससे किसी तरह की एलर्जी तो नहीं हो रही।
  • सुनिश्चित करें कि आप नींबू पानी बनाने के लिए ताजा निचोड़े हुए नींबू के रस का ही उपयोग करें।
  • हल्के गुनगुने पानी में नींबू निचोड़ कर उपयोग करना ज्यादा बेहतर होगा।
  • एक बार डॉक्टर से पूछ लें कि नींबू पानी कब लें और कितनी मात्रा लेना उचित होगा।

आगे हम बता रहे हैं कि किन अवस्थाओं में नींबू पानी पीना हानिकारक हो सकता है।

गर्भावस्था में नींबू पानी अधिक लेने के नुकसान 

वैसे तो गर्भावस्था के दौरान नींबू पानी पीने के फायदे कई हैं, लेकिन इसके कुछ नुकसान भी हैं, जो इस प्रकार है:

  • नींबू पानी को अधिक मात्रा में लेने से दांतों के इनेमल को नुकसान पहुंच सकता है, जिससे दांतों से संबंधित समस्या हो सकती है। इसलिए, आपको नियमित रूप से ज्यादा मात्रा में नींबू पानी का सेवन करने से सावधान रहना चाहिए (7)
  • नींबू पानी में विटामिन-सी की मात्रा पाई जाती है। इसके अधिक मात्रा में सेवन करने से दस्त, मतली और पेट में ऐंठन की समस्या हो सकती है (8)
  • कई बार नींबू पानी के सेवन से त्वचा में एलर्जी भी हो सकती है। नींबू में सिट्रिक एसिड पाया जाता है, जो संवेदनशील त्वचा वालों के लिए एलर्जी का कारण बन सकता है (9)
  • अगर मुंह में किसी तरह के छाले हैं, तो नींबू पानी के सेवन से छाले बढ़ सकते हैं, क्योंकि नींबू में सिट्रिक एसिड होता है। इसलिए, अगर मुंह में किसी तरह का घाव है, तो नींबू पानी न लें (10)

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

क्या नींबू से गर्भपात होता है? 

नहीं, नींबू का सेवन गर्भवती के लिए सुरक्षित है और इसके कारण गर्भपात नहीं होता है। फिर भी इसे लेने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें, क्योंकि हर किसी की गर्भावस्था की स्थिति अलग-अलग होती है।

क्या गर्भवस्था के दौरान मुंहासे हटाने के लिए नींबू सही है? 

नींबू की एसिडिक प्रकृति गर्भावस्था के दौरान मुंहासे को ठीक करने में मदद कर सकती है। आप मुंहासे प्रभावित त्वचा पर नींबू का रस लगा सकते हैं। फिर कुछ मिनट बाद पानी से धो लें। इससे मुंहासे हट सकते हैं (11)। फिलहाल, इस संबंध में अभी और वैज्ञानिक अध्ययन की जरूरत है।

क्या गर्भावस्था में नींबू की चाय पीना सही है? | Pregnancy Me Lemon Tea Pina Chahiye 

हां, आप गर्भावस्था के दौरान नींबू की चाय पी सकते हैं। यह गर्भावस्था के दौरान खांसी की समस्या को दूर रखने में सहायता कर सकता है। लेमन टी को कम मात्रा में और ताजा लेना ज्यादा सुरक्षित होगा। फिर भी इसे आहार में शामिल करने से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह जरूर लें (12)

अब तो आप जान ही गए होंगे कि गर्भावस्था के दौरान नींबू पानी का सेवन किस तरह से लाभदायक हो सकता है। साथ ही ध्यान रहे कि नींबू पानी का सीमित मात्रा में उपयोग करना बेहतर होगा। अगर आप इसे अपने आहार सूची में शामिल करने के बारे में सोच रहे है, तो आर्टिकल में दी गई जानकारियों को एक बार फिर से पढ़ लें और डॉक्टर से भी एक बार परामर्श कर लें। उम्मीद करते हैं कि यह लेख आपकी गर्भावस्था के लिए लाभदायक सिद्ध होगा।

References

MomJunction's articles are written after analyzing the research works of expert authors and institutions. Our references consist of resources established by authorities in their respective fields. You can learn more about the authenticity of the information we present in our editorial policy.

1. Dommasandra Phc, Bangalore By Academia
2. Lemon Juice, Raw By Usda
3. Share With Women By Urmc
4. A Critical Review on Nutritional and Medicinal Importance of Lemon By Researchgate
5. Logansport State Hospital By Soi
6. Pregnancy, Breastfeeding And Bone Health By Nih
7. Why Pregnancy Can Make You Have Weird Cravings By Imhc
8. Vitamin C Fact Sheet For Consumers By Nih
9. Citrus Allergy From Pollen To Clinical Symptoms By Ncbi
10. Radiation Therapy And You By Nih
11. Does Lemon Juice Clear Acne By Acne.Org
12. Herbal Medicine Use By Pregnant Women In Bangladesh: A Cross-sectional Study By Ncbi

Was this article helpful?
thumbsupthumbsdown
The following two tabs change content below.