100 + छात्रों के लिए फनी एग्जाम शायरी, स्टेटस, कोट्स व चुटकुले | Funny Exam Shayari, Quotes, Status And Jokes In Hindi

herocheerful-indian-asian-young-group-college-1849452991

Shutterstock

IN THIS ARTICLE

स्कूल एग्जाम हो या कॉलेज एग्जाम, इसका नाम सुनते ही कुछ बच्चों के मन में डर पैदा हो जाता है और कुछ को घबराहट व तनाव होने लगता है। परीक्षा से जुड़ी इसी घबराहट और स्ट्रेस को कम करने के कुछ तरीकों में से एक फनी शायरी भी है। इसी वजह से मॉमजंक्शन के इस लेख में हम एग्जाम शायरी व दिल को गुदगुदाने वाले फनी एग्जाम कोट्स लेकर आए हैं। बस तो परीक्षा की टेंशन को बाय-बाय कहने के लिए पढ़ें कुछ बेहतरीन एग्जाम टाइम फनी कोट्स।

शुरु करते हैं परीक्षा पर हास्यजनक शायरी का सिलसिला।

परीक्षा पर हास्यजनक शायरी | Funny Exam Shayari in hindi

एग्जाम शब्द ही अधिकतर स्ट्रेस देता है, इसलिए हम आपको हंसाने के लिए परीक्षा पर कुछ शायरियां लेकर आए हैं। इनकी मदद से एग्जाम का तनाव भी कम होगा और चेहरे पर प्यारी सी मुस्कान आ जाएगी। बस तो ज्यादा देर न करते हुए सीधे नजर डालते हैं कुछ फनी एग्जाम शायरियों पर।

  1. सिलेबस पूरा नहीं होता,
    एकदम नींद आ जाती है,
    जैसे ही किताब खोलता हूं,
    आंखें खुद-ब-खुद बंद हो जाती हैं।
  1. न तो रोया जाता है,
    न ही सोया जाता है,
    पेपर में वही सवाल आता है,
    जो बच्चा पढ़ना भूल जाता है।
  1. कोई ऐसी तरकीब बताओ यारों,
    जिससे एग्जाम में पास हो जाएं,
    नंबर तो पूरे आएं ही,
    नींद भी पूरी हो जाए।
  1. पेपर के रिश्ते भी अनोखे होते हैं,
    जो याद न आएं वही प्रश्न कम्पलसरी होते हैं।
  1. समझ कुछ आता नहीं,
    बस मदद की आस है,
    वैसे तो पूजा पाठ करता नहीं मैं,
    लेकिन अब उसी की आस है।
  1. मम्मी कहती है कि बेटा, बड़ों को जवाब नहीं देते,
    बस इसी वजह से पेपर खाली छोड़ आया मैं।
  1. जैसे ही डेट शीट आती है,
    किताबों की खोज शुरू हो जाती है।
  1. किताबें भी तुम्हारी तरह हो गयी है,
    काफी दिन हो गए, नजर ही नहीं आयी।
  1. बुलाती है मगर जाने का नहीं,
    पेपर का समय है बेटे इसे गंवाना नहीं।
  1. सौ दर्द हैं, सौ ही पेज हैं,
    देखते हैं पहले क्या भरता है।
  1. पल भर की जिंदगी है और लंबा रास्ता है,
    मेरा पेपर दे दो यार, तुझे रब का वास्ता है।
  1. न पार्टी होगी, न पार्टी की बात होगी,
    अब जो भी बात होगी वो पेपरों के बाद ही होगी।
  1. पेपर तो मेरा हर साल ही अच्छा जाता है,
    फिर जाने क्यों रिजल्ट हर बार बेकार आता है।
  1. वैसे तो जवाब देने में मैं चैम्पियन हूं,
    फिर पता नहीं क्यों, पेपर में पूछे गए सवालों का जवाब नहीं दे पाती।
  1. धरती और आकाश को हिला देता,
    एक महीना और मिलता तो पेपर बेमिसाल देता।
  1. किसी ने सच कहा है कि अदरक का स्वाद बंदर क्या जाने,
    एक पेपर लिखने में कितनी मेहनत लगती है,
    यह हमें राय देने वाला क्या जानें।
  1. पेपर की टेंशन बड़ी पीड़ा देती है,
    अपने जैसे हीरो को भी किताबी कीड़ा बना देती है।
  1. अगर नहीं चाहिए बाबा जी का ठुल्लू,
    तो बैठो बेटा, ऐसे पढ़ो जैसे हो कोई उल्लू।
  1. काश मेरे बॉयफ्रेंड के प्लान भी मेरे एग्जाम के जैसे होते, जो कभी कैंसिल ही नहीं होते।
  1. जाने वो कैसी नींद होती है, जो पेपर से पहली वाली रात को आती है,
    मैं उसे बुलाता नहीं, वो फिर भी बिना बुलाए चली आती है।
  1. जान! अभी पेपरों की टेंशन है,
    नहीं तो तू ही मेरी सारी अटेंशन है।
  1. वो नकल कहकर हमारा मजाक उड़ाते हैं,
    नहीं जानते वो बेचारे कि इसी को तो टीम वर्क कहते हैं।
  1. नो चीटिंग का यह रूल मेरी आत्मा कभी नहीं सहेगी,
    दूसरों को कुछ न बताकर खुद टॉप करने वालों को जनता माफ नहीं करेगी।
  1. न ऑनलाइन हूं, न स्टेटस का ख्याल है,
    हर एग्जाम वाले का यही हाल है।
  1. मिन्नतें इतनी करो कि पत्थर भी पिघल जाए,
    पेपर चेक करने वाला भी सिर पकड़कर बैठ जाए।

लेख के अगले भाग में पढ़िए एग्जाम फनी कोट्स इन हिन्दी।

परीक्षा पर फनी कोट्स | Exam funny quotes in hindi

हम यहां खास आपके लिए कुछ मजाकिया एग्जाम कोट्स लेकर आए हैं। इनकी मदद से एग्जाम का फनी साइड आपको समझने को मिलेगा।

  1. परीक्षा से पहले वाली रात क्रिसमस से पहले वाली रात की तरह होती है,
    नींद नहीं आती फिर भी आप किसी चमत्कार की उम्मीद होती है।
  1. एग्जामिनर मुझसे ऐसे सवाल पूछते हैं, जो मैं समझ नहीं पाता। फिर मैं भी उन्हें ऐसे जवाब देता हूं, जो वो समझ नहीं पाते।
  1. पेपर में लास्ट के 5 मिनट में मेरी जितनी स्पीड होती है, अगर मैं उतनी ही स्पीड से दौड़ लगाऊं, तो 2-3 मैराथन का विनर तो मैं ही बनूंगा।
  1. न्यूटन का लॉ मुझे बहुत अच्छी तरह से याद है, क्योंकि जैसे ही मैं अपनी किताबें खोलता हूं, मेरी किताबें अपने आप बंद हो जाती हैं।
  1. विद्यार्थी का पेपर के बाद और डॉक्टर का ऑपरेशन के बाद एक ही जवाब होता है, हमने अपना काम कर दिया है। अब बस आप लोगों की दुआओं की जरूरत है।
  1. काश पेपर भी चुनाव की तरह होते,
    पांच सालों में एक ही बार आते।
  1. कौन कहता है कि पेपर टेंशन देते हैं,
    मेरे दोस्त! पेपर नहीं रिजल्ट टेंशन देते हैं।
  1. जले को आग कहते हैं,
    बुझे को राख कहते हैं,
    जिसका बल्ब पेपर में फ्यूज हो जाए,
    उसे दिमाग कहते हैं।
  1. काश गूगल मेरा दोस्त होता, हम दोनों मिलकर पेपर देते और टॉप करते।
  1. पेपर से एक दिन पहले याद आता है कि हम अच्छा गा सकते हैं, नाच सकते हैं, खेल भी सकते हैं, बस पढ़ नहीं सकते।
  1. परीक्षा के दिन हम कुछ चीजों को बड़े ध्यान से देखते हैं, जैसे कि पंखा, छत, दीवारें और पेन।
  1. कौन कहता है कि पढ़ना एक मुश्किल काम है। नहीं भाई! पढ़ते समय आती हुई नींद को भगाना मुश्किल काम है।
  1. पेपर में अपने आप को सांत्वना देने का एक लाजवाब तरीका है खुद को यह कहना कि अभी थोड़ी देर में इसका जवाब याद आ जाएगा, फिर इसे लिखूंगा।
  1. मैं अपनी जिंदगी से बेहद-बेहद खुश था। फिर? फिर क्या, पेपर आ गए।
  1. हमेशा फर्स्ट आने वाले बाबू, 33 नम्बर की कीमत तुम क्या जानो?
  1. रिजल्ट से डर नहीं लगता साहब, रिजल्ट के बाद पापा की पिटाई से डर लगता है।
  1. मनुष्य का दिमाग पैदा होने से मरने तक 24*7 काम करता है,
    बस यह एग्जाम के समय काम करना बंद कर देता है।
  1. हम नकलची नहीं हैं, बस सभी दोस्त एक सा पहनते हैं और एक सा ही लिखते हैं।
  1. दिल से रे, दिल से रे,
    एग्जाम नजदिक आ रहे हैं,
    अब तो पढ़ ले रे।
  1. वो कभी मुझे देखते, तो कभी मैं उन्हें,
    एग्जामिनेशन हॉल में बैठे थे दोस्त,
    न उन्हें कुछ आता था न हमें।
  1. हिम्मत नहीं है उन लोगों में जो पेपरों के वक्त ऑनलाइन नहीं आते, जिगरा चाहिए होता है बर्बाद होने के लिए।
  1. सभी कहते हैं कि जुदाई से बड़ा दुख कोई और नहीं होता। कभी पेपरों में पहले बेंच पर बैठे हो मेरे दोस्त?
  1. पेपरों से पहले हर बच्चा यह सोचता है कि वह आइन्स्टाइन है,
    फिर परीक्षा हॉल में बैठकर यह समझ आता है कि वह तो तारे जमीन पर है।
  1. जिस शिद्दत से मैंने पढ़ने की कोशिश की है,
    किताब की हर लाइन ने मुझे सुलाने की कोशिश की है।
  1. पेपरों से पहले – ये भी हो गया, ये भी हो गया, ये भी हो गया।
    रिजल्ट आने के बाद – अरे! ये क्या हो गया?

लेख में बने रहें और आगे परीक्षा पर मजेदार स्टेटस पढ़ें।

परीक्षा पर मजेदार स्टेटस | Exam funny status in hindi

आप यहां दिए गए स्टेटस को अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर लगाकर खुद के साथ ही दूसरों को भी हंसा सकते हैं। आइए एग्जाम स्टेटस का सिलसिला शुरू करते हैं।

  1. जब हम जीते एक बार हैं, मरते एक बार हैं, प्यार और शादी भी एक बार ही करते हैं, तो पेपर क्यों बार-बार देते हैं?
  1. स्कूल में ढेर सारे टीचर्स हमें अलग-अलग सब्जेक्ट्स पढ़ाते हैं, फिर हम बच्चों से यह उम्मीद क्यों की जाती है कि हम बेचारे अकेले ही इतने सारे सब्जेक्ट्स पढ़ें।
  1. एक दिन मैंने एक बच्चे से पूछा कि पेपर से एक दिन पहले ही क्यों पढ़ते हो?
    बच्चा बोला – शांत समुद्र से तो कोई भी गुजर जाए, तूफानों में कश्ती निकालने का अलग ही मजा है।
  1. दारू के साथ पानी, ये मजा भी कोई मजा है
    भरी जवानी में पढ़ाई और पेपर, ऐ खुदा! ये कैसी सजा है।
  1. मेरा एक सवाल है, अगर फेल ही करना होता है, तो पेपर लेने का क्या मतलब है?
  1. भूख नहीं लगती, सोया नहीं जाता,
    मैंने पूछा खुदा से लगता है मुझे प्यार हो गया है,
    खुदा बोला – बेटा, कल तेरा पेपर है और तुझे कुछ नहीं आता।
  1. जाने कितने ही पेड़ों को काटकर एक कागज की शीट को तैयार किया जाता है? इसलिए पेड़ बचाओ, पेपर हटाओ। हाहाहाहा
  1. एक दिन एक बच्चा घर के झाड़ू, पापा की बेल्ट, बेलन सभी छुपा रहा था। उसकी बड़ी दीदी ने इसकी वजह पूछी तो बच्चे ने जवाब दिया – कल रिजल्ट आने वाला है।
  1. कल रात मुझे किताबें देख रही थी,
    मैं भी किताबों को देख रहा था,
    इतने में ठंडी हवा का झोंका आया,
    इस तरह एक टॉपर बिना कुछ पढे़ ही सो गया।
  1. एक दुआ जो हर बच्चा पेपरों से पहले करता है – हे भगवान! इस बार पास करवा दो, अगली बार से पक्का पढ़ूंगा।
  1. अपना हाल हम शब्दों में बयां नहीं कर सकते,
    अब तो मार्क शीट ही कुछ बयां कर पाएगी।
  1. काश पेपर भी व्हाट्सएप या इंस्टाग्राम की तरह होते,
    हम झट से जवाब देते और बोर भी नहीं होते।
  1. स्वर्ग हर कोई चाहता है, लेकिन मरना कोई नहीं चाहता,
    पास हर कोई होना चाहता है, पर पढ़ना कोई नहीं चाहता।
  1. ऊपर वाले का दिया सब कुछ है – नोट्स है, पेन है, कॉपी है, किताब है। बस मूड ही नहीं है।
  1. सोचूं कभी तो अपनी तकदीर नजर आती है,
    भूली बिसरी यादों की जंजीर नजर आती है,
    जैसे ही पढ़ने बैठो,
    हर पन्ने में अपनी वाली की तस्वीर नजर आती है।
  1. टॉप करने वाले क्या जाने कि हम भी कभी पढ़ा करते थे
    जितना वो पढ़ा करते हैं, उतना तो हम छोड़ दिया करते थे।
  1. टीचर चाहे कितना भी बोल ले, हमें कोई बात बुरी नहीं लगती,
    एग्जामिनेशन हॉल में अपने दोस्त की चुप्पी दिल तोड़ देती है।
  1. कभी हम पेपर खत्म कर देते हैं और कभी पेपर हमें।
  1. पगले! ऐसे मत देख मुझे, पेपर हैं मेरे कल से,
    फिलहाल के लिए निकल जा मेरे दिल से।
  1. पास हो जाऊंगा, प्लीज बता दे मुझे आन्सर,
    मदद करने पर दुआ देगा ये लास्ट बेंचर।
  1. लोगों की जवानी मौज में ढलती है,
    मेरी जवानी तो पढ़ाई में ही ढल गयी।
  1. पेपरों का साया है, यहां सुख किसने पाया है,
    घरवाले कहते हैं बेटा अच्छे नंबर ले आओ,
    उन्हें कौन समझाए कि ये सब तो मोह माया है।
  1. हर सवाल से डटकर लड़ता हूं,
    लिखने में न कोई कमी करता हूं,
    टीचर को फुल सपोर्ट करता हूं,
    आगे वाले की आन्सर शीट भी अपनी समझता हूं।
  1. दोस्त वह होता है, जो एग्जाम हॉल के बाहर आकर कहे – जल्दी कर! तेरी वाली के आने का टाइम हो गया।
  1. मैं तो रिजल्ट आने का गम मानता हूं,
    क्योंकि उस दिन पापा का जूते खाता हूं,
    दोस्त है ऐसे मेरे जो पढ़ने नहीं देते,
    इसलिए फेल हो जाता हूं।
  1. साल में एक ऐसा दिन आता है , जो मुझे बहुत रुलाता है,
    उस दिन हम लोगों के परीक्षा का परिणाम आता है।
  1. बाथरूम में बहुत से फर्रे छुपे होते हैं, इसलिए समझ नहीं आता की कौनसा अपना है।

लेख के अंतिम भाग में परीक्षा पर मजेदार चुटकुले पढ़ते हैं।

परीक्षा पर मजेदार चुटकुले | Latest funny jokes for exam in hindi

स्कूल जाने वाले बच्चे हों या कॉलेज जाने वाले ग्रोनअप्स, सभी को चुटकुले पसंद होते हैं। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हम यहां परीक्षा पर मजेदार चुटकुले लेकर आए हैं।

  1. एक बच्चे ने पेपर से पहले दिन हवा में सिक्का उछाला और कहा – अगर हैड आया तो टी.वी. देखूंगा, टेल आया तो सो जाऊंगा।
    अगर गलती से सिक्का बीच में ही टिका रहा तो पढ़ाई करूंगा।
  1. एक ऐसी बात जो बच्चे आज से 100 साल पहले भी कहा करते थे,
    आज भी कहते हैं और 100 साल बाद भी कहा करेंगे,
    बस कल से पढ़ाई शुरू।
  1. सुरेश ने अपने पेपर के पहले पेज पर लिखा, यहां दिए गए सभी जवाब काल्पनिक हैं। इनका वास्तविकता से कोई लेन-देन नहीं है।
  1. टीचर – बच्चों क्लास में कभी लड़ना नहीं चाहिए। बताओ क्यों?
    रमेश – क्योंकि पेपर में जाने किसके पीछे बैठना पड़े।
  1. पिता – इतने कम नंबर आए हैं? इसके लिए तो दो थप्पड़ देने चाहिए।
    बच्चा – सही कहा आपने पापा। चलो, मुझे उस टीचर का घर पता है।
  1. सुनील पढ़ाई में कमजोर था खासकर मैथ्स में। गणित में कम नंबर आने पर टीचर ने उससे पूछा – तुम्हारे इतने कम नंबर क्यों आए?
    सुनील – सर, आया नहीं था न उस दिन।
    टीचर – क्या!! तुम पेपर वाले दिन नहीं आए थे?
    सुनील ने तपाक से जवाब दिया – नहीं सर। मेरे बगल वाला नहीं आया था उस दिन।
  1. राहुल एग्जाम हॉल में प्रश्न पत्र देखते ही रोने लगा। टीचर ने पूछा – क्या हुआ बेटा? कुछ नहीं आता क्या?
    राहुल – नहीं सर, यह बात नहीं है। मैंने जिसके साथ आधे पेपर की डील हुई थी, वो आज आया ही नहीं।
  1. पेपर में प्रश्न पूछा गया था – प्रोग्राम किसे कहा जाता है?
    पप्पू बोला – साथ मिलकर दारू पीने की प्लानिंग को प्रोग्राम कहा जाता है सर।
  1. एग्जामिनेशन हॉल में एक टीचर ने बच्चों को नकल करने का मौका दिया और कहा – “ये बात तुम किसी से मत कहना कि मैंने तुम सबको नकल करवाई है।“
    दीपक – “नहीं सर, हम बिल्कुल नहीं बताएंगे। हम तो कहेंगे कि टीचर बड़ा ही बेकार था, हमें सिर तक हिलाने की अनुमति नहीं दिया। भगवान करे आज घर जाते हुए उसकी अपनी पत्नी से लड़ाई हो जाए।“
  1. रिजल्ट आया और अमन अपनी कक्षा में फेल हो गया।
    मां – तू फिर फेल हो गया? शर्मा जी की बेटी को देख, वह कितने अच्छे नंबरों से पास हुई है।
    अमन – शर्मा जी की बेटी को देख-देखकर ही तो मैं फेल हुआ हूं।
  1. रमेश – ओए सुरेश। मैंने सुना आज हमारा रिजल्ट आ गया है।
    सुरेश – ये ओए सुरेश क्या होता है? सुरेश सर बोल।
    रमेश – वो क्यों?
    सुरेश – वो इसलिए क्योंकि आज रिजल्ट आ गया है और अब मैं तेरा सीनियर हो गया हूं।
  1. “रिजल्ट आ गया।” यह वो तीन शब्द हैं, जो एक हंसते खेलते बच्चे की जिंदगी बदल देते हैं।
  1. जिन- बोलो क्या हुकूम है मेरे आका।
    स्टूडेंट – अब से मेरे बदले तुम पढ़ोगे।
    जिन – आका! हुकूम करने को कहा था, बकवास नहीं।
  1. समीर एग्जामिनेशन हॉल में अचानक खड़ा होकर नाचने लगा।
    टीचर – अरे। तुम्हें क्या हुआ?
    समीर – मैडम। आप ही ने तो कहा था कि हर स्टेप के नंबर मिलेंगे।
  1. राम – यार, अगर मैं इस बार फेल हो गया तो आत्महत्या कर लूंगा।
    सोहन – तेरा दिमाग खराब है क्या? मर गए तो अगले जन्म में फिर प्री नर्सरी से शुरू करना पड़ेगा।
  1. राजू पेपर देकर घर आया तो मां ने बेटे से पूछा – पेपर कैसा था?
    राजू – पतला सा, लंबा, सफेद से रंग का।
  1. पिता – बेटी, आज तुम्हारा पेपर कैसा रहा?
    सीमा – पहला प्रश्न आता नहीं था।
    दूसरा छूट गया।
    तीसरा भूल गयी।
    पांचवा नजर नहीं आया।
    पिता – और चौथा सवाल?
    सीमा – सिर्फ वही जवाब गलत हो गया।
  1. साहिल पेपर खाली छोड़ आया था। जब दोस्तों ने पूछा कि उसने ऐसा क्यों किया तो साहिल बोला – मैं टीचर से नाराज हूं, इसलिए हमारी बातचीत बंद है।
  1. दिनेश के पिता उसे खूब पीट रहे थे। पड़ोसी बोला – आप इसकी पिटाई क्यों कर रहे हैं?
    पिता – क्योंकि कल इसका रिजल्ट आने वाला है।
    पड़ोसी – फिर आज पिटाई क्यों कर रहे हैं?
    पिता – क्योंकि कल मैं गांव जा रहा हूं।
  1. एक दिन सर ने एक प्लम्बर को स्कूल बुलाया। जानते हो क्यों?
    क्योंकि पेपर लीक हो गया था और वो जानना चाहते थे कि पेपर आखिर कहां से लीक हुआ।
  1. रमेश एग्जामिनेशन हॉल में बैठकर कुछ सोच रहा था।
    टीचर – क्यों बेटा, ऐसे कौन से प्रश्न का जवाब सोच रहे हो?
    रमेश – सर, मैं यह सोच रहा हूं कि मैंने पर्ची रखी कौन सी जेब में है।
  1. दीपा – और कैसी है? पढ़ाई कैसी चल रही है?
    रेखा – सहेली है, सहेली बनकर रह। ये रिश्तेदार बनने की कोशिश मत कर।
  1. अगर पृथ्वी के भी पेरेंट्स होते तो उसे कहते – कभी एक जगह बैठकर पढ़ भी लिया कर। 24 घंटे घूमती ही रहती है।
  1. परीक्षा में राहुल के जीरो नंबर आए।
    टीचर – राहुल, तुम्हारे और तुम्हारे आगे वाले के सभी जवाब एक जैसे हैं। ऐसा क्यों?
    राहुल – मैडम। सवाल भी तो एक जैसे थे।
  1.  अमन का रिजल्ट आने पर दोस्त ने पूछा, कैसा है?
    जवाब में उसने कहा, सब ठीक है। बस मेरा अमन छीन गया।

हमें यकीन है कि आप सभी को छात्रों के लिए फनी एग्जाम शायरी, स्टेटस, कोट्स व चुटकुले पसंद आए होंगे। एग्जाम से पहले मूड को लाइट करने और चिंता को थोड़ा कम करने में इन शायरी और जोक्स का कलेक्शन मदद कर सकता है। भविष्य में ऐसे ही अन्य लेख पढ़ने के लिए विजिट करते रहें हमारी वेबसाइट।